महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा चलाया जागरूकता अभियान

0
248
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 26 सितम्बर। एसडीएम अपराजिता ने कहा कि उपमंडल में आगामी 30 सितम्बर तक महिला एवं बाल विकास विभाग के माध्यम से पोषण माह मनाया जा रहा है। इसमें गर्भवती महिलाओ और बच्चों को कुपोषण से बचने के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग की आँगन बाङी वर्करों, हैल्परो द्वारा घर घर जाकर जानकारी दी जा रही है। अधिकारियों द्वारा कार्यक्रम आयोजित करके आमजन जागरूकता लाई जा रही है।
 इन कार्यक्रमों में कोविड-19 के संक्रमण के बचाव के लिए सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार भी लोगों को जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उपमंडल के शहरी ब्लाक की सभी 190 आँगन बाङी केन्द्रों के इलाकों में कोविड-19 के संक्रमण के बचाव के लिए तथा बच्चों, किशोरियो और महिलाओं को कुपोषण से बचने तथा स्वच्छता बारे जागरूकता अभियान में आम जन की भागीदारी की सुनिश्चित की जा रही है।
 महिला एवं बाल विकास विभाग जिला कार्यक्रम अधिकारी कम सीडीपीओ अनिता शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि विभाग की महिला कर्मचारी घर घर जाकर गर्भवती महिलाओ को सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार नियमित शारीरिक जांच करवाने,  आयरन की गोलियां खाने,बच्चों को कुपोषण से बचने के लिए प्रेरित कर रही है। छः माह से कम आयु के बच्चों को दूध पिलाने वाली छात्री माताओ को केवल माँ का ही छात्री दूध पिलाने और छः माह से अधिक आयु के बच्चों को ऊपरी दूध पिलाने बारे जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। गर्भवती महिलाओं के गोद भराई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।
 उन्होंने आगे बताया कि छोटे बच्चों की लम्बाई, वजन जांच,सन्तुलित आहार,किशोरियो और महिलाओं को व्यकिगत स्वच्छता बारे तथा कुपोषण से बचने के लिए लोगों में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इसके आलावा सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार पौधे रोपण,स्वच्छता अभियान सहित कोविड-19 के संक्रमण के बचाव के लिए हाथों को सैनिटाइजर करने तरीके तथा मास्क लगाने और हाथों को साबुन से धोने के तरीके के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी जा रही है।