बन्नूवाल बिरादरी ने लोगों के लिए खोला धर्मशाला का खजाना : डा. राधा नरूला

0
251

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 19 अप्रैल बन्नूवाल मरवत बिरादरी की सरपरस्त डा.राधा नरूला ने कहा कि जान है तो जहान है, अगर इंसान ही जीवित नहीं रहेगा तो यह धन दौलत किस काम की। इसलिए हमें मानवता की रक्षा के लिए आगे आकर सहयोग करना चाहिए। जहां तक संभव हो सके गरीब एवं जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे आएं। जो भी संभव हो सके मदद करें। उक्त आह्वान रविवार को उन्होंने जवाहर कॉलोनी स्थित बन्नूवाल मरवत बिरादरी की धर्मशाला में लोगों को राशन वितरित करते हुए किया। बन्नूवाल मरवत बिरादरी ने 100 से अधिक लोगों को राशन वितरित किया। इससे पूर्व भी संस्था कई बार लोगों को राशन वितरित कर चुकी है और आगे भी मदद का यह कार्यक्रम चलता रहेगा। उन्होंने कहा कि बन्नूवाल मरवत बिरादरी की धर्मशाला का खजाना गरीब,आमजनों एवं जरूरतमंदों के लिए खुला है। लोग बिना हिचक के यहां मदद के लिए आ सकते हैं। संस्था के प्रधान सुंदरलाल चुघ ने कहा कि बन्नूवाल मरवत बिरादरी हमेशा लोगों की सहायता के लिए कार्य करती रही है और ऐसी विपदा की घड़ी में कोइ कमी बाकी नहीं छोड़ी जाएगी। उन्होंने लोगों से जरूरी एहतियात बरतने की भी अपील की,ताकि इस भयंकर बीमारी को मात दी जा सके। इस अवसर पर संस्था के चुन्नीलाल बांगा,किशनलाल गेरा,शेर सिंह भाटिया,हुकमचंद लखानी,लोकनाथ अदलखा,पारस गौतम आदि मौजूद रहे।