भाजपा-जजपा का छात्र विरोधी चेहरा हुआ उजागर : कृष्ण अत्री

0
205
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : आज सैंकड़ो छात्र-छात्राओं ने एनएसयूआई के बैनरतले हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर तथा गृह एवं स्वास्थ्य शिक्षा मंत्री अनिल विज का पुतला फूंका। प्रदर्शन करने का मुख्य कारण मेडिकल के छात्रों की फीस 53 हजार से बढ़ाकर 10 लाख कर देना तथा सभी कॉलेजों की स्नातक कक्षाओं में छात्रों की मांग के बावजूद 20 प्रतिशत सीट ना बढ़ाना हैं। प्रदर्शनकारी छात्रों ने खट्टर सरकार मुर्दाबाद, अनिल विज मुर्दाबाद के जमकर नारे लगाए। इस प्रदर्शन का नेतृत्व एनएसयूआई हरियाणा के प्रदेश महासचिव कृष्ण अत्री ने किया।
इस दौरान एनएसयूआई हरियाणा के प्रदेश महासचिव कृष्ण अत्री ने कहा कि एमबीबीएस के छात्रों की फीस 53 हजार रुपये से बढ़ाकर सीधा 10 लाख रुपये कर दी गई हैं जोकि सीधा-सीधा गरीब, किसान, मजदूरों के बच्चों को डॉक्टर की पढ़ाई ना करने देने की मंशा से की गई हैं। कृष्ण अत्री ने कहा कि इस युवा विरोधी फैसले के कारण प्रदेशभर के एमबीबीएस की पढ़ाई करने वाले छात्रों को 10 लाख का बांड प्रति वर्ष देना होगा। साढ़े चार साल के कोर्स में कुल 40 लाख का बांड देना होगा। पहले वर्ष की फीस 80 हजार रुपये हैं जिसमें प्रतिवर्ष 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी होती जायेगी। दूसरे वर्ष के लिए 88 हजार, तीसरे वर्ष के लिए 96800 तथा चौथे वर्ष के लिए 106480 रुपये हों जायेगी। उन्होंने कहा कि हरियाणा की खट्टर सरकार ऐसा करने वाली पहली सरकार हैं जिसने गरीब, किसान, मजदूर परिवारों के छात्रों को डॉक्टर बनने से रोकने की साजिश की है तथा उन्हें कर्ज के दलदल में धकेलना चाहती हैं। खट्टर सरकार के इस फैसले ने ये साबित कर दिया कि भाजपा सिर्फ पूंजीपतियों के बारे में सोचती हैं, उसे गरीब-किसान परिवारों से आने वाले मेधावी छात्रों से कोई हमदर्दी नहीं हैं।
वही कृष्ण अत्री ने अपनी दूसरी मांग के बारे में बताते हुए कहा कि सभी कॉलेजों की स्नातक कक्षाओं में 20 प्रतिशत सीट बढ़ोतरी की मांग को लेकर छात्र करीब 8-10 दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं लेकिन सरकार का इस ओर कोई ध्यान नहीं हैं। उन्होंने कहा कि सीट बढ़ोतरी की मांग को लेकर कॉलेज प्रशासन से लेकर जिला प्रशासन तक का दरवाजा खटखटाया जा चुका हैं लेकिन सरकार ने अभी तक छात्रहितों में कोई फैसला नहीं लिया हैं। कृष्ण अत्री ने कहा कि अगर जल्द मेडिकल के छात्रों की फीस बढ़ोतरी वापिस नही ली गई तथा सीट नही बढ़ाई तो एनएसयूआई फिर रोड़ो पर उतरकर सरकार का विरोध करेंगी।
इस मौके पर छात्रनेता नरवीर चौधरी, यश सरदाना, राहुल वर्मा, महेश शर्मा, खुशबू चौधरी, प्रिया तिवारी, भूमिका दास, अंशु, पूजा, पुनीत कुमार, कृष्ण कुलैना, ओमप्रकाश, लोकेश राजपूत, रंजन, अंकुश राठौड़, शाहिद, नितिन मित्तल, मोहित शर्मा, राजू जवां, अमरिंदर, रोहित, अनिल आदि मौजूद थे।