मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से की विभिन्न योजनाओं की समीक्षा

0
58

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 8 अप्रैल। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गुरुवार को चंडीगढ़ से आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश भर के उपायुक्तों से शिव धाम योजना, ग्रे वाटर मैनेजमैंट व फसलों की खरीद के तहत किये जा रहे कार्यों बारे जानकारी लेते हुए इन विषयों में तेजी लाने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री हर वीरवार को प्रात: 10 बजे से 12 बजे तक संवाद कार्यक्रम के तहत विभिन्न विषयों को लेकर उपायुक्तों से समीक्षा बैठक लेकर जानकारी लेते हैं।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से शिवधाम योजना के बारे में बातचीत करते हुए कहा कि इस योजना के तहत चार मुख्य कार्य जिनमें शमशान घाट/कब्रिस्तान के जीर्णोद्धारवहां पर पानी की व्यवस्थाकच्चे रास्तों को पक्का करना व चारदिवारी करना मुख्य रूप से शामिल करना है। इन कार्यों के तहत अधिकतर कार्यों को पूरा करने का काम किया जा चुका है। किसी जिला में जो कार्य शेष रह गये हैंवे उसे पूरा करना सुनिश्चित करें। इसके उपरांत उन्होंने ग्रे वाटर मैनेजमैंट के तहत किये जा रहे कार्यों के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 6700 ग्राम पंचायतों व शहरी क्षेत्र में भी इस विषय को लेकर बेहतर समन्वय के साथ कार्य करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पानी प्रबन्धन योजना के तहत जहां हमें पानी को बचाना हैवहीं जो पानी व्यर्थ हो चुका हैउसको एसटीपी के माध्यम से शुद्धिकरण करते हुए उसे प्रयोग में भी लाने का काम करना है। इसके लिये हमें बेहतर समन्वय के साथ कार्य करते हुए जहां पानी का प्रयोग जैसे बागवानीउद्योगोंस्कूलों या अन्य स्थानों पर करना हैउसकी भी व्यवस्था करनी है। इसके उपरांत उन्होंने गेहूं खरीद कार्य को लेकर किये जा रहे कार्यों के बारे में भी जानकारी हासिल की और अभी तक मंडियों में कितनी गेहूं पंहुच चुकी है तथा कितनी खरीदी जा चुकी हैइस बारे भी जानकारी ली। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि आढ़तियों की जो आढ़त संबन्धी जो मांग थीउसे पूरा किया गया है और ब्याज सहित देने का काम किया जा रहा है। उपायुक्त यशपाल ने मुख्यमंत्री को अवगत करवाते हुए बताया कि जिला फरीदाबाद में शिवधाम योजना के तहत सभी कार्य पूरे कर लिये गये हैं। जिला के सभी शमशान घाट/कब्रिस्तानों में जो आवश्यक मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई हैं। ग्रे वाटर मैनेजमैंट के तहत पंचायती राज विभाग द्वारा जो प्रोजैक्ट बनाए गये हैंउसके तहत कार्य तेजी से जारी है। उन्होंने बताया कि फरीदाबाद जिला में वर्ष 2020-21 में 23 गांवों के ग्रे वाटर मैनेजमैंट प्रोजेक्ट तैयार कर संबंधित विभाग को स्वीकृति के लिए भेजे गए हैं। जिला की मंडियों में गेहूं खरीद का कार्य सुचारू रूप से जारी है। किसी प्रकार की कोई दिक्कत नही है। मंडियों में सफाई व्यवस्था के साथ-साथ किसानों को गेट पास में किसी प्रकार की परेशान न होइसके लिए बेहतर व्यवस्था की गई है। वीडियो कांफ्रेंस को देखने व सुनने के उपरांत उपायुक्त ने बैठक में उपस्थित संबन्धित अधिकारियों को कहा कि जिन विषयों को लेकर आज चर्चा की गई है और जो आवश्यक दिशा-निर्देश मिले हैंउनकी अनुपालना के तहत कार्य करना है। बैठक में एसडीएम फरीदाबाद परमजीत चहलएचएसवीपी के कार्यकारी अधिकारी जितेंद्र कुमारनगराधीश मोहित कुमार सहित सभी विभागों के अधिकारी मौजूद थे।