डी.ए.वी शताब्दी महाविद्यालय में ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ अभियान के तहत सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन 

0
298
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : डी.ए.वी शताब्दी महाविद्यालय में दिनांक 01मार्च 2021 को एक सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया गया। इस कार्यक्रम का आयोजन भारत सरकार द्वारा चलाए जा रहे अभियान ’एक भारत- श्रेष्ठ भारत’ के अंतर्गत किया गया।
इस कार्यक्रम के तहत भारत देश के सभी राज्यों को एक-दूसरे के साथ एक सूत्री कार्यक्रम में जोड़ा गया है। और इसी श्रृंखला में हरियाणा राज्य को तेलंगाना राज्य के साथ सांस्कृतिक मूल्यों को समझने व जानने के लिए भागीदार राज्य बनाया है। इस अभियान का मुख्य उद्देश्य भारत को सांस्कृतिक मूल्यों के जरिए एकता के सूत्र में पिरोना है ताकि पूरा देश व्यापक स्तर पर देश की विरासत और परंपरा को समझ सके।
 डी.ए.वी.शताब्दी महाविद्यालय में वाणिज्य विभाग में कार्यरत एसोसिएट प्रोफ़ेसर व राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान के नोडल अधिकारी श्री. मुकेश बंसल जी ने कार्यक्रम की रूप-रेखा तैयार की।
यह कार्यक्रम महाविद्यालय के पर्यटन विभाग द्वारा आयोजित किया गया और विभाग के विद्यार्थियों ने दोनों राज्यों से जुड़े अनेकों पहलुओं को विभिन्न प्रदर्शनियों के माध्यम से दर्शाया।
इसके लिए कॉलेज प्रांगण में दोनों राज्यों की वेश-भूषा, खान-पान, रहन-सहन, आभूषणों व इन दोनों राज्यों की प्रसिद्ध हस्तियों और मशहूर दर्शनीय स्थलों का एक सजीव चित्रण पेश किया। इसके साथ-साथ दोनों राज्यों के लोक-नृत्यों व वाद्य-यंत्रों को भी बखूबी व बेहतरीन ढंग से प्रदर्शित किया। कार्यक्रम में मौजूद दर्शकों ने भी इस मेहमाननवाजी का भरपूर लुत्फ उठाया।
इस जीवंत प्रदर्शनी में शहर के 03 गणमान्य व बहुमुखी प्रतिभा के धनी व्यक्तियों ने मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत की, जिनमे श्री. दिनेश कुमार जी(संयुक्त आयुक्त, फरीदाबाद), श्री. अमरदीप सिंह जी(विधि सदस्य,बाल अदालत, फरीदाबाद), और श्री. यशवंत सिंह जी(नायब तहसीलदार,नगर-निगम, फरीदाबाद) प्रमुख थे।
अतिथियों का स्वागत व सेवा-सत्कार दोनों राज्यों के मशहूर व्यंजनों जिनमें बाजरे की खिचड़ी, देशी घी की जलेबी, छाछ व गुड़ से किया। मुख्य अतिथियों ने प्रदर्शनियों का निरीक्षण किया व महाविद्यालय को ऐसे अतुल्य कार्यक्रम के लिए बधाइयां दी।
कॉलेज की प्राचार्या डॉ. सविता भगत जी ने भारत सरकार के इस अभियान को अनूठा बताया व कहा कि सरकार की ये पहल, देश को एकता के सूत्र में बांधने में मदद करेगी।
यह सारा कार्यक्रम महाविद्यालय से निर्वाचित ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ कार्यक्रम के समन्वयक श्री. अमित कुमार जी के मार्ग-दर्शन व दिशा-निर्देशन में संपन्न हुआ। कार्यक्रम के कार्यकारी सचिव डॉ. निशा सिंह व मंजीत सिंह ने बाहर से आए मेहमानों और दर्शकों का धन्यवाद किया। इस कार्यक्रम में अन्य प्राध्यापक जिनमें डॉ. रश्मि, डॉ.सुरभि, मैडम मीनाक्षी कौशिक, मैडम तमन्ना सैनी भी सक्रिय भूमिका में रहे।