सिद्धदाता आश्रम में किया दीक्षा समारोह का आयोजन

0
421

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 20 जनवरी। श्री सिद्धदाता आश्रम एवं श्री लक्ष्मीनारायण दिव्यधाम में आज दीक्षा समारोह का आयोजन किया गया जिसमें 110 लोगों ने नामदान प्राप्त किया। इस अवसर पर दीक्षा देते हुए अनंत श्रीविभूषित इंद्रप्रस्थ एवं हरियाणा पीठाधीश्वर श्रीमद जगदगुरु रामानुजाचार्य स्वामी श्री पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने कहा कि नाम जप शिक्षा और रोजगार के रास्ते भी खोलता है। इसलिए नाम जप छोटे बड़े सभी के लिए कल्याणकारी है।श्री सिद्धदाता आश्रम के अधिपति अनंत श्री विभूषित इंद्रप्रस्थ एवं हरियाणा पीठाधीश्वर श्रीमद जगदगुरु रामानुजाचार्य स्वामी श्री पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने पंचविधि से नाम दान दिया। इसमें यज्ञ, यज्ञोपवीत, नाम, शंख चक्रांकन व शरणागति नाम के पांच अंग होते हैं। जिनसे गुजर कर ही किसी व्यक्ति को रामानुज संप्रदाय में दीक्षा प्राप्त होती है। इस अवसर पर दिए प्रवचन में श्री गुरु महाराज ने कहा कि नाम का व्यक्ति के जीवन में बड़ा महत्व है। उन्होंने कहा कि नाम किसी भी उम्र का व्यक्ति ले सकता है। बच्चे व विद्यार्थी भी नाम जप सकते हैं। जिसका उन्हें अपने जीवन में लाभ अवश्य हीमिलता है। स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने कहा कि नाम का बड़ा उदाहरण भक्त प्रहलाद हैं जिन्हें महर्षि नारद ने नारायण नाम जपने के लिए कहा था। आप देखें बालक प्रहलाद के नाम जप केकारण ही भगवान को अवतार लेना पड़ा और प्रहलाद भक्त शिरोमणि हो गए। इसलिए बिना शंका के नाम जपो। आपके जीवन में सब सुफल ही होगा।