कोरोना महामारी में जरूरतमंदों को खाना वितरित करना पुण्य का कार्य : ललित नागर

0
1071

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : तिगांव विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के पूर्व विधायक ललित नागर ने कहा है कि केंद्र सरकार प्रवासी मजदूरों को राहत देने में पूरी तरह से नाकाम साबित हो रही है। प्रवासी मजदूर जहां खाना-पीने की समस्याओं से जूझ रहे है वहीं सरकार द्वारा उन्हें उनके घरों तक भी नहीं पहुंचाया जा रहा, नतीजतन मजदूर पैदल ही अपने घरों की ओर चल रहे है और कई मजदूर तो दुर्घटनाओं में अपनी जान भी गंवा चुके है, ऐसे में सरकार को चाहिए कि इन प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने का बंदोबस्त करें। श्री नागर आज एनआईटी विधानसभा क्षेत्र के सेक्टर-55 में गरीब व प्रवासी मजदूरों को खाना वितरित कर रहे थे। यहां टीम दीपेंद्र द्वारा कांग्रेसी नेता जगन डागर व राजेश आर्य के नेतृत्व में पिछले डेढ़ महीने से प्रतिदिन लगभग 2500 लोगों खाना वितरित करने की मुहिम चलाई जा रही है। पूर्व विधायक ललित नागर ने कहा कि कोरोना महामारी ने समूचे देश की व्यवस्था को बिगाड़ दिया है, लेकिन इस महामारी में साधन सम्पन्न लोगों का दायित्व बनता है कि वह जरूरतमंद व गरीबों को खाना वितरित करने के लिए आगे आएं क्योंकि यह एक पुण्य का कार्य है। उन्होंने टीम दीपेंद्र की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह टीम लॉकडाउन के दौरान पिछले डेढ महीने से इस नेक कार्य को करते हुए जरूरतमंद लोगों का पेट भरने का काम कर रही है। नागर ने कहा कि कोरोना से हमेें अभी लम्बी लड़ाई लडऩी है इसलिए हम सभी को सोशल डिस्टेंसिंग, भीड़भाड़ वाली जगहों पर न जाने, बार-बार साबुन से हाथ धोने के अलावा कई सावधानियां बरतनी होगी, तभी कोरोना पर पूरी तरह से विजय पाई जा सकती है। इस मौके पर टीम दीपेंद्र के सदस्य जगन डागर व राजेश आर्य ने संयुक्त रूप से कहा कि उनके द्वारा यह मुहिम पिछले डेढ महीने से जारी है और जब तक लॉकडाउन रहेगा व गरीब व जरूरतमंदों को खाना उपलब्ध करवाते रहेंगे। उन्होंने कहा कि इस कार्य में सेक्टर के अन्य लोगों का भी उन्हें भरपूर सहयोग मिल रहा है, जिससे यह संभव हो पा रहा है। इस अवसर पर नरेंद्र कुमार, दुष्यंत सिंह, करण कुमार, राजेंद्र कुमार, त्यागी जी, अनूप, अनिल पोसवाल, प्रदीप मुदगिल, केशव डागर, धन सिंह डागर, छगन प्रधान सहित अनेकों गणमान्य लोग मौजूद थे।