करोड़ो रुपये हडपने वाली गैंग का E.O.W. CELL NIT ने किया भांडा फोड 

0
314
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : E.O.W CELL ने सराहनीय कार्य करते हुए एक ऐसे गिरोह को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। जो की लोगो को फोन कर L.I.C. कम्पनी के इन्सोरेन्स और विभिन्न सरकारी सेवाओ का लाभ दिलाने के नाम पर लोगो से पैसे एठते थे।
आपको बताते चले कि दिनांक 11 जनवरी 2018 को थाना मुजेसर में शिकायतकर्ता राजन निवासी सैक्टर-9 फरीदाबाद ने पुलिस को बताया था कि किसी ने फोन कर इंश्योरेंस के नाम पर उसके साथ धोखाधड़ी की है और विभिन्न अकाउंट में काफी पैसा डलवा लिया है। जिस पर आरोपीयों के खिलाफ मामला थाना मुजेसर में 11 जनवरी 2018 को मुकदमा नंबर 26 दर्ज किया गया था।
जिसकी कार्यवाई करते हुए 2 आरोपी को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है।
आरोपियो कि पहचान रंजन कुमार निवासी  सैक्टर-63 नौएडा उत्तर प्रदेश हाल निवासी सैक्टर-10 सिकन्दरा आगरा उत्तर प्रदेश व आऱोपी देवेश निवासी छपरोला नौएडा उत्तर प्रदेश हाल निवासी नंगला बिहार गोपाल धाम थाना ईदमादोला जिला आगरा उत्तर प्रदेश के रुप में हुई है।
पूछताछ में आरोपीयों ने बताया की उन्होने आगरा मे एडियोल इन्वेस्टमेंट के नाम पर आगरा उत्तर प्रदेश में एक टेलीकॉलर कंपनी खोली हुई है। जिसमें इसने काफी संख्या में नौजवान व्यक्तियों को प्रलोभन का लालच देकर बतौर टेलीकॉलर नियुक्त किया हुआ था जिसमें एक रंजन कुमार भी बतौर टेलीकॉलर इस कंपनी में काम करता था यह लोग टेलीफोन पर लोगों से नाम बदलकर एवं फर्जी अधिकारी बनकर फोन करके उनको एल आई सी इंश्योरेंस इत्यादि भिन्न-भिन्न सरकारी स्कीमों के बारे में झांसा देकर लोगों को फंसा लेते थे। उसने बताया की वे व्यक्तियों द्वारा फर्जी खातों में रकम जमा करवाकर पैसे हड़प लेते थे।
शिकायतकर्ता द्वारा भी इनके झांसे में आकर उपरोक्त रकम इनके द्वारा बताए गए विभिन्न खातों में जमा कराई गई जिससे आरोपियों द्वारा मुदई के साथ धोखाधड़ी व बेईमानी से गमन कर लिया गया था।
E.O.W. CELL इंचार्ज ने बताया कि आरोपी देवेश को नोएडा सैक्टर-63 से दिनांक 29 जनवरी को व आऱोपी रंजन को आगरा उत्तर प्रदेश से दिनांक 31 जनवरी को गिरफ्तार कर लिया गया है।
आरोपियो को अदालत में पेश करके देवेश को 5 दिन तथा रंजन को 3 के पुलिस रिमांड पर लिया गया है।
अनुसंधान अधिकारी एएसआई अजय ने जानकारी देते हुए बताया कि इस मुकदमें में पहले भी गौरव चौहान निवासी मोदी नगर गाजियाबाद को दिनांक 30.09.2019 को गिरफ्तारी किया जा चुका है।
आरोपी गौरव से 20,00,000 रुपये बरामद किये जा चुके है।
मामले की जांच कर रहे अधिकारी अजय कुमार ने बताया की आरोपियो की तलाश के लिए नोएडा, गाजियाबाद, आगरा, कई जगह रैड करके व इलेक्ट्रॉनिक माध्यम की मदद से आगरा उत्तर प्रदेश व नोएडा से गिरफ्तारी कर लिया गया है।
आऱोपियो को कल दिनांक 04 फरवरी को अदालत में पेश कर जेल भेज दिया जाएगावारदात में फरार चल रहे अन्य आरोपियों को भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।