हाई परफार्मेंस लीडरशिप प्रोग्राम के दूसरे संस्करण के लिए तैयार है ईएलएमएस स्पोर्ट्स फाउंडेशन

0
196

Mumbai Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 19 फरवरी। भारत के पहले हाई परफार्मेंस लीडरशिप प्रोग्राम के पहले बैच के माध्यम से देश के शीर्ष खेल प्रशासकों और हितधारकों को सफलतापूर्वक प्रशिक्षित करने के बाद ईएलएमएस स्पोर्ट्स फाउंडेशन अब इस प्रोग्राम के दूसरे संस्करण को शुरू करने के लिए तैयार है।

ईएमएलएस ने इस कार्यक्रम के दूसरे संस्करण की घोषणा कर दी है, जिसकी शुरुआत 20 मार्च, 2021 से होगी। और इसके लिए ईएमएलएस ने नॉलेज पार्टनर के रूप में अभिनव बिंद्रा फाउंडेशन के साथ करार किया है। इसके अलावा एक्सपर्ट गाइडेंस प्रदाता के रूप में दुनिया के अग्रणी खेल शिक्षण स्थानों में से एक लफबोरो विश्वविद्यालय के साथ भी ईएमएलएस ने साझेदारी की है।

कार्यक्रम के पहले संस्करण के समूह में कई अन्य इंटरनेशनल एथलीट्स के साथ ओलंपियन अपर्णा पोपट, शिवा केशवन और नेहा अग्रवाल शामिल थे। इसके अलावा इसमें भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के प्रतिनिधियों और राज्य सरकारों,  इलीट खेल क्लबों के साथ-साथ एथलीट प्रबंधन से जुड़े गैर सरकारी संगठन भी शामिल थे। यह कार्यक्रम अब उन सभी के लिए खुला है जो इसके लिए जरूरी पात्रता मानदंडों (एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया) को पूरा करते हैं।

ईएलएमएस स्पोर्टस फाउंडेशन के को-प्रोमोटर वीता दानी ने कहा, “पहले बैच के दौरान हमें जबरदस्त सकारात्मक प्रतिक्रिया (रेस्पांस) मिली थी और मैं दूसरे बैच की घोषणा करते हुए बेहद खुश हूं। अभिनव बिंद्रा फाउंडेशन और लफबोरो विश्वविद्यालय से करार के बाद  हमने हाई परफार्मेंस लीडर्स का एक पूल बनाया है। ये वे लोग हैं, जिन्होंने न केवल भारतीय खेल पारिस्थितिकी तंत्र (स्पोर्टस इकोसिस्टम) के विकास में योगदान करने की क्षमता विकसित की है, बल्कि खेल के लिए सार्थक जुड़ाव और वातावरण भी बनाया है। मुझे आशा है कि कई और खेल प्रशासक इस पाठ्यक्रम से लाभ उठा सकते हैं और अपने योगदान से भारतीय खेलों के विकास में तेजी ला सकते हैं।“

भारत के लिए ओलंपिक में व्यक्तिगत स्वर्ण जीतने वाले एकमात्र एथलीट अभिनव बिंद्रा ने इस कोर्स में शामिल होने वालों को सम्बोधित करते हुए कहते हैं, “हाई परफार्मेंस स्पोर्ट ने बीते कुछ सालो में हमारे एथलीटों की क्षमता, हमारे कोचों के मार्गदर्शन और हमारे स्पोर्टस लीडर्स और प्रशासकों की मेहनत के कारण पुनरुत्थान देखा है। ये लीडर्स और प्रशासक न केवल एक एथलीट-केंद्रित दृष्टिकोण (अप्रोच) तैयार करते हैं बल्कि काफी योग्यतापूर्ण तरीके से योजनाओं को भी अंतिम रूप भी दे हैं। हाई परफार्मेंस प्रोग्राम के पहले बैच की सफलता के बाद, हम दूसरे बैच के लिए आवेदन आमंत्रित करते हुए खुशी महसूस कर रहे हैं। हमारा लक्ष्य भारतीय खेलों को ऊंचाइयों तक ले जाना है। आइए, इस यात्रा में हमारे साथ जुड़िए।”

महामारी के मौजूदा दौर ने हमें कुशल और अभिनव (इनोवेटिव) होने के महत्व को समझने में मदद की है। महामारी के दौर में लाइव स्पोर्ट पूरी तरह रुक गया था लेकिन अब धीरे-धीरे इसकी वापसी हो रही है तो एसे में हाई परफार्मेंस लीडर्स अपने नवाचार (इनोवेशन), दक्षता (एफिशिएंसी) और अद्वितीय कौशल-सेट (यूनीक स्किल सेट) के साथ खेल पारिस्थितिकी तंत्र (स्पोर्टस इकोसिस्टम) के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।

अभिनव बिंद्रा फाउंडेशन को नॉलेज पार्टनर के रूप में जोड़ते हुए ईएलएमएस स्पोर्ट्स फाउंडेशन ने अपने हाई-परफॉरमेंस लीडरशिप प्रोग्राम को लूपबोरो विश्वविद्यालय और कई अन्य राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों (एक्सपटर्स) के सहयोग से तैयार किया है। ईएलएमएस के सभी सहयोगी इस कोर्स से जुड़ने वाले खेल प्रशासकों के ज्ञान, कौशल और क्षमताओं में इजाफा उन्नत कर उस स्तर तक से जाते हैं कि वे स्थायी विकास (सस्टेंनेबल ग्रोथ) हासिल करने की दिशा में सफलतापूर्वक अग्रसर हो सकें।

सात महीने के इस ऑनलाइन सर्टिफिकेट कार्यक्रम के लिए पंजीकरण जारी है और इसके लिए अंतिम तारीख 1 मार्च, 2021 निर्धारित की गई है। उम्मीदवार अपना आवेदन bit.ly/HPLP2Form पर जमा कर सकते हैं। कार्यक्रम की फीस 40000 रुपये + GST (एक मुश्त देने वालों के लिए) है जबकि वे उम्मीदवार, जो युवा मामले और खेल मंत्रालय, राज्य खेल विभागों या सरकारी निकायों जैसे भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI), SAG, भारतीय खेल संस्थान (NIS), आदि या फिर किसी भी राष्ट्रीय खेल संघ से प्रायोजित हैं, के लिए फीस 35000 + GST है।