मेवात में रोजगार संसाधन शुरू करने पर जोर, मुख्यमंत्री से आफताब की बात

0
320
Nuh Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : कांग्रेस विधायक दल के उप नेता चौधरी आफताब अहमद ने रविवार देर रात को प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर से बात की जिसमें बाहर के प्रदेशों के लोग जो जमात में आये हुए हैं, क्वारंटाइन पूरा कर चुके लोगों के घर जाने की मांग की।
नूह विधायक चौधरी आफताब अहमद ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से बाहर प्रदेशों में या मेवात जिले में ही फंसे स्कूल/ कॉलेज/ मदरसे या अन्य छात्रों, मजदूरों, व्यापारियों को सुरक्षित तरीके से उनके घर पहुंचाने की मांग की है।
चौधरी आफताब अहमद ने मेवात जिले में गरीब मजदूर व आम जन के रोजगार को सुरक्षित रहते हुए तुरंत शुरू कराने की मांग की। उन्होंने कहा निर्माण कार्य से जुड़े रोजगारों जैसे क्रेशर जोन, बिल्डिंग सप्लाई मैटेरियल, डंफर, ट्रक, ट्रैक्टर, रोज के धाडी जैसे रोजगार के साधनों को शुरू कराने की मांग की है। आफताब अहमद ने जोरदार तरीके से मुख्यमंत्री से मांग की कि मेवात में हजारों लोग इन रोजगारों से जुड़े हैं उनकी आजीविका का ये एक मात्र विकल्प है इसलिए इसे तुरंत शुरू किया जाए।
इसके बाद सोमवार को सीएलपी डिप्टी लीडर आफताब अहमद जिला उपायुक्त नूह से मिले व जमात के लोगों को छोड़ने, बाहर के प्रदेशों में फंसे छात्रों अन्य लोगों व मेवात में फंसे सभी छात्रों को उनके घर पहुंचाने का मांग की है। इस दौरान विधायक चौधरी आफताब अहमद ने कहा कि रमजान में बिजली पानी, नेहरों व जोहड़ों में पानी आपूर्ति की मांग की है।
जिला उपायुक्त ने सीएलपी उप नेता आफताब अहमद को भरोसा दिलाया कि बहुत जल्द इन मामलों में करवाई करी जायगी। जिला उपायुक्त ने विधायक को बताया कि कंटेनमेंट एरिया 43 गांव से घटाकर 10 गावों तक सीमित कर दिया है।
चौधरी आफताब अहमद ने कहा कि उनसे सैंकड़ों छात्रों व लोगों ने संपर्क किया है जो बाहर जिलों में फंसे हुए हैं, या मेवात में बाहर के छात्र फंसे हुए हैं, ये स्कूल, कॉलेज, मदरसे के छात्र हैं, इन्हें तुरंत इनके घर भेजा जाए। सीएलपी उप नेता आफताब अहमद ने कहा कि 21 छात्रों व 100 से अधिक जमात के लोगों को व सैंकड़ों मजदूर, छात्रों या अन्य लोगों को वो प्रशासन के सहयोग से उनके घर पहुंचा चुके हैं।
सीएलपी उप नेता आफताब अहमद ने आम लोगों को अपील की है कि वो लॉक डाउन का पालन करें और सुरक्षित रहें।