सूरजकुंड स्थित पर्यटन केंद्रों के कर्मचारियों ने वेतन न मिलने पर किया विरोध प्रदर्शन

0
258
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 24 फरवरी। सूरजकुंड स्थित पर्यटन केंद्रों के कर्मचारियों ने वेतन न मिलने पर गेट मीटिंग कर निर्णय लिया कि 26 फरवरी को सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के जिला मुख्यालयों पर होने वाले धरने में शामिल होकर निगम प्रशासन के उदासीन रवैया अपनाने का कड़ा विरोध किया जाएगा। कर्मचारियों की गेट मीटिंग का नेतृत्व राज्य उपप्रधान डिगम्बर डागर महासचिव युद्धवीर सिंह खत्री, उपमहासचिव सुभाषचन्द्र देशवाल, राज्य संगठन सचिव टीकाराम शर्मा, कार्यालय सचिव विरेन्द्र शर्मा, सचिव लच्छी राम, होटल राजहंस के प्रधान मुरारी लाल के नेतृत्व में वेतन की मांग करते हुए जोरदार नारेबाजी की।
कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए महासचिव युद्धवीर सिंह खत्री ने कहा कि कोरोना काल में स्वास्थ्य विभाग के डाक्टर, नर्सों, परामैडिकल स्टाफ को जब कोई किरायेदार भी नहीं रख रहे थे उनको पर्यटन निगम के होटलों में ठहराया गया जिनकी पर्यटन कर्मचारियों ने संक्रमण की प्रवाह नहीं की बल्कि उनकी सेवा की उन्हीं कर्मचारियों को अब हरियाणा सरकार पांच महीने का वेतन भी नहीं दे रहे हैं। कर्मचारियों के सामने आर्थिक संकट के चलते बच्चों की स्कूल कालेज की फीस जमा करवाना तो दूर दूध तेल दाल घरेलू सामान की जरूरत को पूरा करने में भारी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। दूसरी तरफ पर्यटन प्रशासन रिटायर्ड अधिकारियों को नौकरी पर रख रही हैं। उन्होंने कहा कि 26 फरवरी को जिला मुख्यालय पर सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रदर्शन में पर्यटन निगम कर्मचारी भारी संख्या में शामिल होकर वेतन की मांग सहित अन्य मुद्दों को ज़ोरदार उठाएंगे।
प्रदर्शन को जिले सिंह, अशोक कुमार, सतवीर सिंह ठाकुर सिंह पंवार, राजेश कुमार यादव, रामजीत, सुभाष शर्मा, सुभाष चन्द्र, सतपाल यादव ने भी सम्बोधित किया।