रेडक्रास सोसायटी एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पाली द्वारा गांव पाली में परिवार नियोजन शिविर का आयोजन

0
304

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 23 फरवरी। जिला रेडक्रास सोसायटी एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पाली द्वारा आज गांव पाली में परिवार नियोजन शिविर का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में इंडियन रेडक्रास सोसायटी चंडीगढ़ की वाइस चेयरपर्सन श्रीमती सुषमा गुप्ता मुख्यातिथि के रूप में उपस्थित रहीं। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि जिला रेडक्रास सोसायटी के सचिव विकास कुमार तथा विशेष अतिथि के रूप में ईएसआई मेडिमल कालेज फरीदाबाद की कम्युनिटी मेडिसिन विभाग की विभागाध्यक्ष डा. पूजा गोयल, श्रीमती लोकेश शर्मा, जिला रेडक्रास सोसायटी के सहसचिव बिजेंद्र सौरोत व सहायक पुरुषोत्तम सैनी उपस्थित रहे।
इस मौके पर मुख्यातिथि श्रीमती सुषमा गुप्ता ने परिवार नियोजन के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने उपस्थित महिला-पुरुषों को संबोधित करते हुए कहा कि परिवार नियोजन का अर्थ है यह तय करना कि आपके कितने बच्चे हों और कब हों। अगर आप बच्चे पैदा करने के लिए थोड़ी प्रतीक्षा करना चाहते हैं तो अनेक उपलब्ध साधनों में से कोई एक साधन चुन सकते हैं। इन्हीं साधनों को परिवार नियोजन के साधन, बच्चों के जन्म के बीच अंतर रखने के साधन या गर्भ निरोधक साधन कहते हैं। उन्होंने बताया कि देश में प्रतिवर्ष लगभग 5 लाख महिलाएं गर्भधारण, प्रसव, तथा असुरक्षित गर्भपात की समस्याओं के कारण मृत्यु की शिकार हो जाती है। इनमें अनके मौतों को परिवार नियोजन द्वारा रोका जा सकता है। श्रीमती सुषमा गुप्ता ने कहा कि भारत में कुपोषण तथा तपेदिक और मलेरिया जैसे संक्रामक रोगों के कारण गर्भावस्था काफी जोखिमपूर्ण हो जाती है। परिवार नियोजन साधनों की उपलब्धता, आपातकालीन प्रसव संबंधित सेवाओं तक आसान पहुंच और संक्रामक रोगों के बेहतर प्रबंधन से मातृ मृत्यु दर में बहुत कमी लायी जा सकती है तथा देश की बढ़ती जनसंख्या पर अंकुश लगाया जा सकता है।
वशिष्ट अतिथि जिला रेडक्रास सोसायटी के सचिव विकास कुमार चाहे महिला कहीं भी रहती हो, अगर बच्चों की संख्या और उनके पैदा होने के समय पर नियंत्रण है तो वह अधिक स्वस्थ रहेगी। परिवार नियोजन के साधन अपनाकर पति-पत्नी अनचाहे गर्भ के भय से मुक्त रहेंगे।
ईएसआई मेडिमल कालेज की कम्युनिटी मेडिसिन विभाग की विभागाध्यक्ष डा. पूजा गोयल बताया कि परिवार नियोजन के साधनों को अपनाकर जहां परिवारों को छोटा रखने में सहुलियत मिलती हैं वहीं महिला के स्वास्थ्य को भी बेहतर रखा जा सकता है। परिवार नियोजन अपनाने के लिए महिला व पुरुष को गर्भ निरोधक साधन चुनना चाहिए।
कार्यक्रम का आयोजन ईएसआई मेडिकल कालेज फरीदाबाद के मुख्य चिकित्सा अधिकारी ड. रतनप्रकाश धीर व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पाली के प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. राजेश कुमार के संयोजन में सफलतापूर्वक किया गया। अंत में डा. राजेश कुमार ने सभी अतिथिगणों व आगुंतकों का कार्यक्रम में भाग लेने पर आभार व्यक्त किया।