बाल्मीकि समाज की बेटियां इन्दु व भारती, जरूरतमंद गरीबों को बांट रही भोजन

0
363

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : देश के विकास में बेटियों का महत्वपूर्ण योगदान है। आज महिलाएं हर क्षेत्र में अपनी काबलियत सिद्व कर चुकी है। देश पर जब जब विपदा आई है महिलाएं भी घरों से बाहर निकलकर मैदान में डटी रही है। आज जब पूरे देश पर कोरोना महामारी का प्रकोप है ऐसे में बाल्मीकि समाज की दो बेटियां इन्दु व भारती भी देश के प्रति अपने कर्तव्य को समझते हुए घर बैठने की बजाय गरीबों को भोजन बांटने में लगी हुई है। इन्दु और भारती दोनो सगी बहनें है जिसमें इन्दु आईएएस की तैयारी कर रही है और भारती एमबीए करके पीएचडी की तैयारी कर रही है। दोनो बेटियां सुबह होते ही बाल्मीकि आश्रम धर्माथ सुधार ट्रस्ट गांधी कालोनी,वाल्मीकि मोहल्ला एनआईटी फरीदाबाद द्वारा संचालित भगवान बाल्मीकि मंदिर के प्रांगण में अपनी अन्य महिला सदस्यों के साथ भोजन तैयार करने में जुट जाती है। भोजन बनने के बाद दोनो बहने पूरे सोशल डिस्टैंस से लोगों की लाईन लगवाकर भोजन बांटती है। बिना मास्क लगाए लोगों को भोजन बिल्कुल नहीं दिया जाता। इन्दु और भारती ने बताया कि इस समय देश बहुत ही बुरे दौर से गुजर रहा है ऐसे में हम घर कैसे बैठ सकते है। उन्होनें बताया कि यह समय गरीबों की सेवा करने और उनके सारे दुख हर लेने की है। उन्होनें बताया कि गरीबों की सेवा करने का जज्बा उन्हें अपने पिता किशोरी लाल प्रधान बाल्मीकि आश्रम धर्माथ सुधार ट्रस्ट गांधी कालोनी,वाल्मीकि मोहल्ला एनआईटी फरीदाबाद से मिला है जो हमेशा समाजसेवा के कार्यो में सबसे आगे रहते है। उन्होनें बताया कि जबसे लॉकडाऊन शुरू हुआ है तबसे वे जरूररतमंद गरीबों को भोजन वितरित कर रही है और जब तक लॉकडाऊन रहेगा तब तक इसी तरह सेवा करती रहेगीं। इस मौके पर माया देवी,शिमला देवी,प्रेम,रजनी,केसर,बबीता,माया,अशोक देवी,अरूणा,कविता,क्रांति,बर्फी देवी,बाबू,किरण,बीरी,अजबी,बिल्लों सहित कई महिलाएं मौजूद थी।