मानव रचना में देशभर से आये शिक्षाविदों को अंतराष्ट्रीय वक्ताओं ने किया सम्भोदित 

0
281

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj :30 जनवरी मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज के मीडिया डिपार्टमेंट ने “प्रतिरोध और अस्मिता: वॉयस ऑफ द सबाल्टर्न पर एक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन की मेजबानी की। सम्मेलन में अलग अलग देशों से आये वक्ताओं ने भारत के विभिन्न सरकारी और गैर सरकारी विश्विद्यालों के प्रोफ़ेसरों के साथ अपने विचार साझा किये।

प्रोफेसर चंदर मोहन, जनरल सेक्रेटरी, कम्पेरेटिव लिटरेचर एसोसिएशन ऑफ इंडिया इस अवसर के लिए  मुख्य अतिथि थे। बांग्लादेश के ढाका विश्वविद्यालय से डॉ अब्दुर रज्जाक खान और भूटान के रॉयल विश्वविद्यालय के डॉ राजेश वर्मा ने दर्शकों को ज्ञान प्रदान किया।

अंग्रेजी भाषा और साहित्य की दुनिया के दिग्गजों ने सम्मेलन के दौरान आठ तकनीकी सत्रों की अध्यक्षता कीजहां 90 से अधिक पत्र प्रस्तुत किए गए और सम्मेलन की कार्यवाही  प्रकाशित की गई और जारी की गई।

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, दिल्ली यूनिवर्सिटी, आई पी यूनिवर्सिटी, सीएमएस जैन विश्वविद्यालय बेंगलुरु, चंडीगढ़ विश्वविद्यालय, पटना विश्वविद्यालय, सीयू जम्मू आदि विभिन्न विश्वविद्यालयों के प्रतिनिधियों ने अपनी उपस्थिति जताई।

आठ तकनीकी सत्रों के सफल आयोजन के बाद, प्रोफेसर टी एन धर, इरिटेरिया विश्वविद्यालय और प्रोफेसर राज कुमार, एचओडी, अंग्रेजी विभाग, डीयू द्वारा वैध सत्र के द्वारा समापन हुआ।

सम्मेलन प्रतिभागियों और प्रस्तुतकर्ताओं को प्रमाण पत्र के वितरण के साथ संपन्न हुआ।