खादी ग्रामोद्योग अपने अनूठे घरेलू उत्पादों से खूब धूम मचा रहा

0
244

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj :12 फरवरी। 34वें सूरजकुंड मेले में हरियाणा खादी ग्रामोद्योग की ओर से लगाया गया स्टाल भी अपने अनूठे घरेलू उत्पादों से खूब धूम मचा रहा है। मेले में 767-768 नंबर की स्टाल पर सूती, खादी कपड़ा, बैडशीट, अचार आदि खरीदने वालों की धूम मची हुई है।
हरियाणा राज्य खादी ग्रामोद्योग की स्टाल पर आम दिनचर्या मेंं शामिल होने वाले लगभग  सभी प्रकार के उत्पाद उपलब्ध हैं। इसमें सूती व खादी कपड़ा, सूट, बैडशीट, तकिया कवर, साबुन,  आंवले का मुरब्बा, आंवले के लड्डïू, मिर्च, आम, अदरक आदि के अचार, शुद्घ शहद, मेंहदी आदि शामिल हैं। पर्यटकों को यह सामान अपनी प्राकृतिक शुद्घता के कारण खूब लुभा रहा है। स्टाल पर बैठे  श्रीमती कीर्ति सिंह, रमेशचंद्र, ओमप्रकाश, प्रदीप एवं बिजेंद्र ने बताया  कि हरियाणा के जींद,गुरुग्राम, करनाल, पानीपत और फरीदाबाद से  यह सामन आया है। इनमें रजाई, कंबल, बैडशीट, पिलोकवर पानीपत से आए हैं। फलों व फूलों के उत्पाद करनाल, जींद से मंगवाए गए हैं। बाकी का सामान फरीदाबाद से आया है।
हरियाणा खादी बोर्ड फरीदाबाद के जिला अधिकारी अनिल दलाल ने बताया कि खादी बोर्ड की चेयरमैन गार्गी कक्कड़ के मागदर्शन में ग्रामोद्योग गांवों या कस्बों में रहने वाले अत्यंत छोटे उद्यमियों को ऋण उपलब्ध करवाता है। ताकि वे इस ऋण के मदद से अपना स्वरोजगार स्थापित कर सके। उन्होंने बताया कि तैयार उत्पाद को लैबोरेट्री में पास होने के बाद ही उसे बाजार में बेचा जाता है। इनमें कोई भी उत्पाद या खाद्य सामग्री हानिकारक नहीं है।