पर्यटकों की पहली पसंद बनी लखनवी चिकन सूट व वाराणसी की जाकेट

0
228

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 10 फरवरी। 34वें अंतरराष्ट्रीय सूरजकुंड मेले में स्टाल नंबर 240 पर्यटकों को जहां लखनवी चिकन लेडिज सूटों से लुभा रही हैं तो वहीं स्टाल नंबर 107 युवाओं का गर्मियों व सर्दियों के लिए तैयार जाकेट आकर्षित कर रही हैं। लखनवी चिकन सूट स्टाल के मालिक शारिक खान ने बताया कि वे पिछले 5 साल से अंतरराष्ट्रीय सूरजकुंड हस्तशिल्प मेले में आ रहे है। पूरी तरह से हस्तकलां से निर्मित लखनवी चिकन सूट की बहुत डिमांड रहती है। विशेष तरह की कढ़ाई से तैयार किए गए चिकन सूट हर उम्र की महिलाओं को पसंद आते है और आज के समय में यह सूट छात्राओं की भी लुभा रहे हैं। रोहतक जिला से मेले में पहुंची रेनू व कविता तथा गुरूग्राम से युवती पूजा व तमन्ना ने बताया कि वे हर साल सूरजकुंड मेले में विशेष तौर पर खरीदारी के लिए आती है। मेले में उन्हे न केवल अलग तरीके से डिजायन किए गए सूट मिलते है बल्कि रंगों में बहुत ऑपशन होते है जो बाजार में आमतौर नहीं मिलते।
जाकेट स्टाल के मालिक उत्तरप्रदेश वाराणसी मिर्जापुर के प्रवेश ने बताया कि यह उनका खानदानी काम है और वे पिछले 15 साल से सूरजकुंड मेले का हिस्सा है। यहां पर स्टाल लगाने का मजा ही अलग है और ब्रिकी भी जबरदस्त होती है। उन्होंने बताया कि कॉटन, लीलन की जाकेट के अलावा वूलन व और भी कई तरह के डिजायन से बनाई गई जाकेट उपलब्ध है। यह जाकेट सर्दी व गर्मी में भी पहनी जा सकती है और शादियों व पार्टियों के लिए भी हमारे पास विशेष डिजायन की जाकेट है।