विधायक आफताब अहमद ने शहीद हसन खां मेवाती मेडिकल कॉलेज का किया दौरा

0
74

Nuh Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 25 जनवरी। नूंह के विधायक आफताब अहमद ने शहीद हसन खां मेवाती मेडिकल कॉलेज का दौरा किया और अस्पताल की कार्यप्रणाली एवं व्यवस्था का जायजा लिया। इस अवसर पर उन्होंने कॉलेज की निदेशक डॉ संगीता, डॉ. अनुराग सिंह, मेडिकल सुप्रीडेंट से अस्पताल के अंदर की सुविधाओं एवं समस्याओं पर विचार-विमर्श किया। श्री आफताब ने बताया कि शहीद हसन खां मेवाती मेडिकल कॉलेज में सुविधाओं के विस्तार को लेकर उन्होंने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर ह्दय रोग, कार्डियालोजी, किडनी नेफ्रोलॉजी, न्यूरोलॉजी, बर्न एवं प्लास्टिक वार्ड की स्थापना की जाने की मांग की है। ताकि स्थानीय लोगों को इन सुविधाओं के बाहर धक्के न खाने पड़ें। उन्होंने बताया कि उनकी जानकारी में आया है कि शहीद हसन खां मेडिकल कॉलेज में 100 सीटों का जो डेंटल कॉलेज मंजूर हुआ था, उसको 50 सीटों का किया जा रहा है। हमारी माननीय मुख्यमंत्री से अपील है कि स्थानीय लोगों की आबादी एवं जरूरत को देखते हुए इसको 100 सीटों का ही रहने दिया जाए। विधायक नूंह ने कॉलेज परिसर में अलाइड कोर्सिस जैसे : बीएससी नर्सिंग, डीएमएलटी, लैब टैक्नीशियन, फिजियोथैरेपी आदि कोर्सिस शुरू कराए जाने की मांग की, ताकि बच्चों को लाभ मिल सके और नए सैशन में बेहतर कैरियर की शुरूआत कर सकें। सन् 2012 में कांग्रेस सरकार द्वारा 650 करोड़ रुपए की लागत से शुरू किए गए इस कॉलेज में सुविधाओं के अभाव में लोगों को भटकना न पड़े, इसलिए कॉलेज को स्वच्छ वातावरण में बेहतरीन सुविधाएं उपलब्ध कराया जाना अति आवश्यक है। श्री आफताब ने बताया कि पिछले कुछ समय से अल्ट्रासाउंड की सुविधा देने में कॉलेज असफल साबित हो रहा है। लम्बे समय रेडियोलॉजिस्ट की व्यवस्था न होने से अस्पताल में अल्ट्रासाउंड नहीं हो पा रहे हैं, जो चिंतन का विषय है। कॉलेज में जब अल्ट्रासाउण्ड मशीन सहित सभी सुविधाएं हैं, तो रेडियोलॉजिस्ट की व्यवस्था की जानी चाहिए। मेडिकल कॉलेज की निदेशक डॉ. संगीता ने बताया कि कॉलेज में पिछले 10 दिनों से नहीं आया कोरोना का एक भी मरीज नहीं आया है, जो बड़ी खुशी की बात है। इसके अतिरिक्त ओपीडी में प्रतिदिन 600 से अधिक लोग आते हैं, जिनका नियमित उपचार किया जा रहा है।