जे.सी. बोस विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाया गया

0
255

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 28 फरवरी जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद द्वारा आज राष्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाया के उपलक्ष्य में आमंत्रित व्याख्यान और पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया। कार्यक्रमों का समन्वयन रसायन विज्ञान विभाग द्वारा किया गया था।
राष्ट्रीय विज्ञान दिवस भारतीय प्रसिद्ध वैज्ञानिक सर सी.वी. रमन द्वारा रमन इफेक्ट की खोज के उपलक्ष्य में मनाया जाता है, जिन्हें इस खोज के लिए सन 1930 में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। इस वर्ष, राष्ट्रीय विज्ञान दिवस का विषय ‘विज्ञान में महिलाएं’ है, जिसका उद्देश्य विज्ञान के क्षेत्र में महिलाओं के योगदान की सराहना करना है।
अपने संदेश में कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने विद्यार्थियों से आह्वान किया कि वे वैज्ञानिक सी.वी. रमन के जीवन व विज्ञान के क्षेत्र में उनके योगदान को जाने तथा इससे प्रेरणा लें। उन्होंने कहा कि नोबेल पुरस्कार विजेता सी.वी. रमन दृढ़ इच्छा शक्ति के व्यक्ति थे, जिन्होंने अपने जीवन की सभी बाधाओं को पार करते हुए जीवन में सफलता हासिल की और ऐसे महान वैज्ञानिक का जीवन विद्यार्थियों के लिए अनुकरणीय है।
इस अवसर पर शारदा विश्वविद्यालय, नोएडा के प्रो. एच. सूर्य प्रकाश राव और आईआईटी दिल्ली से प्रो. हितेंद्र मलिक द्वारा विशेष व्याख्यान प्रस्तुत किये गये।
इससे पहले, कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुई तथा गणित की विभागाध्यक्ष डॉ नीतू गुप्ता ने अतिथियों का स्वागत किया। किया। इस अवसर पर रसायन विज्ञान के विभागाध्यक्ष डॉ. रवि कुमार भी उपस्थित थे।
प्रो. राव ने अपने व्याख्यान में विद्यार्थियों को सर सी.वी. रमन के जीवन प्रसंगों से प्रेरित किया। उन्होंने बताया कि किस तरह से डॉ. रमन ने भारतीय अनुसंधान को बढ़ावा दिया तथा पगड़ी पहनकर एक भारतीय के रूप में अपनी पहचान कायम की।
प्रो. मलिक ने फिल्म क्लिप के माध्यम से सॉलिटन के टकराव को प्रदर्शित किया और बताया कि किस तरह यह ऑप्टिकल संचार और ऊर्जा परिवहन के लिए उपयोगी है।
कुलसचिव डॉ. सुनील कुमार गर्ग ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया और रोजमर्रा में विज्ञान के महत्व तथा विज्ञान में महिलाओं की भागीदारी पर चर्चा की। कार्यक्रम के अंत में डॉ. बिंदू मंगला द्वारा धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।
इस अवसर पर रसायन विज्ञान विभाग के विद्यार्थियों की सोसायटी ‘रसायन’ के अंतर्गत विज्ञान में महिलाओं की भागीदारी, दैनिक जीवन में रसायन तथा स्मार्ट मटीरियल्स जैसे विषयों पर एक पोस्टर प्रतियोगिता भी आयोजित की गई। प्रतियोगिता में प्रदर्शन के आधार पर, पहले तीन स्थानों के लिए पुरस्कार प्रदान किये गये। प्रतियोगिता में पहला पुरस्कार बीएससी कैमिस्ट्री से शाइन ने जीता। बीएससी कैमिस्ट्री से ही सिमरन और तनीषा ने संयुक्त रूप से दूसरा स्थान हासिल किया तथा तथा तृप्ता ने तीसरा स्थान हासिल किया।