जे.सी. बोस विश्वविद्यालय में नई छात्र परिषद का गठन

0
186

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 26 फरवरी। संस्थागत विकास और छात्र कल्याण की विभिन्न गतिविधियों में विद्यार्थियों को प्रतिनिधित्व देने के उद्देश्य से जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद ने वर्ष 2020-21 के लिए नई छात्र परिषद का गठन किया है।
कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने नवगठित छात्र परिषद् के सदस्यों से मुलाकात की। कुलपति ने छात्र परिषद के नए पदाधिकारियों को उनके चयन पर बधाई दी। विद्यार्थी एवं उनके कल्याण अपनी पहली प्राथमिकता बताते हुए कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने छात्र परिषद से विद्यार्थियों के कल्याण के लिए मिलकर काम करने का आह्वान किया। इस अवसर पर डीन स्टूडेंट वेलफेयर प्रो. लखविंदर सिंह और डॉ. अनुराधा पिल्लई भी उपस्थित थे।
कोरोना महामारी के मद्देनजर छात्र परिषद के गठन के लिए अपनाई गई चयन प्रक्रिया के बारे में जानकारी देते हुए डीन स्टूडेंट वेलफेयर प्रो. लखविंदर सिंह ने बताया कि सभी अकादमिक विषयों से प्रतिनिधित्व को ध्यान में रखते हुए छात्र परिषद के लिए नए पदाधिकारियों का चयन शैक्षणिक विभागों द्वारा नामित उम्मीदवारों में से किया गया है। डीन स्टूडेंट वेलफेयर कार्यालय द्वारा गठित चयन पैनल द्वारा संचालित साक्षात्कार में लगभग 30 नामांकित उम्मीदवारों ने हिस्सा लिया और विश्वविद्यालय स्तर पर विभिन्न गतिविधियों में विद्यार्थियों की सक्रिय भागीदारी के आधार पर छात्र परिषद में उम्मीदवारों को पद आवंटित किए गए।
इस तरह बीटेक (इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग) के छात्र चिराग गोयल को अध्यक्ष चुना गया है। बीएससी (मैथ्स) से प्रवीण गोयल को उपाध्यक्ष, बी.टेक (आईटी) से तनुश्री को सचिव और बीजेएमसी से अंकुर त्रिपाठी और बीएससी (कैमिस्ट्री) से लताक्षी शर्मा को संयुक्त सचिव चुना गया है। विभिन्न शैक्षणिक विषयों का प्रतिनिधित्व करने वाले सात विद्यार्थियों को कार्यकारी सदस्यों बनाया गया है, जिनमें साहिल कुमार, प्रिया, वीर तनवर, हर्ष कीना, प्राची सिवाच, तान्या शर्मा, योगेश और दीपा मिश्रा शामिल हैं।
छात्र परिषद के पदाधिकारियों ने कुलपति को आश्वासन दिया कि वे विश्वविद्यालय में अकादमिक उत्कृष्टता और बेहतरी के साथ-साथ विश्वविद्यालय की प्रगति में अपना सहयोग देंगे।