ऑनलाइन राज्यस्तरीय बाल महोत्सव ने 5 लाख प्रतिभागिताओं के साथ रचा विश्व कीर्तिमान : कृष्ण ढुल

0
255
Gurugram Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद द्वारा आयोजित राज्यस्तरीय ऑनलाइन बाल महोत्सव की उपलब्धियों को लेकर मानद महासचिव श्री कृष्ण ढुल ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि ऑनलाइन राज्य स्तरीय बाल महोत्सव में लगभग 5 लाख प्रतिभागियों के साथ ऐतिहासिक रहा। ऑनलाइन राज्य स्तरीय बाल महोत्सव कई मायनों में ऐतिहासिक रहा। देश ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में कोविड-19 के दौरान ऑनलाइन रूप से आयोजित होने वाला ऑनलाइन राज्य स्तरीय बाल महोत्सव सबसे बड़ा इवेंट माना जा रहा है। जिसे लिम्का बुक, गिनीज बुक और एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स का प्रबल दावेदार है। 23 प्रतियोगिताओं के 73 वर्गों में प्रतिभागिता में लड़कियों ने लड़कों को पछाड़ते हुए लगभग साढ़े 3 लाख लड़कियों और डेढ़ लाख लड़कों ने भाग ले बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान को सही मायनों में सार्थक किया। ऑनलाइन राज्य स्तरीय बाल महोत्सव को विभिन्न सोशल मीडिया के माध्यम से लगभग एक करोड़ लोगों ने देखा और बच्चों को प्रोत्साहित किया। कोविड-19 के चलते इस बार का बाल महोत्सव ऑनलाइन मनाया गया। जो कि जिला स्तर पर 10 अक्टूबर से 10 नवंबर तक पूरे प्रदेश के सभी जिलों में विभिन्न प्रतियोगिताओं के माध्यम से संपन्न हुआ। जिसमें बच्चों की 4 लाख 35 हजार एंट्रियां आई। प्रदेशभर के जिलास्तर पर 13 हजार से अधिक विजेता बच्चों को लगभग 22 लाख के पारितोषिक वितरित किए गए। वहीं राज्य स्तर पर विजेता 592 बच्चों को 40 लाख के पुरस्कार वितरित किए जाएंगे। कृष्ण ढुल ने कहा कि ऑनलाइन राज्य स्तरीय बाल महोत्सव के राज्य स्तरीय कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि के रूप में डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने किया। इस उपरांत 20 जनवरी तक चले कार्यक्रमों में प्रदेश के सभी केंद्रीय मंत्रियों, केबिनेट मंत्रियों, राज्यमंत्रियों ने मुख्यातिथि के रूप में शिरकत की व बच्चों को आशीर्वाद और मार्गदर्शन दिया। ऑनलाइन राज्य स्तरीय बाल महोत्सव के समापन अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में राज्यपाल एवं हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद के प्रधान श्री सत्यदेव नारायण आर्य ने बच्चों को संदेश दिया और परिषद् को सराहनीय आयोजन की शुभकामनाएं दी। मुख्य अतिथि के रूप में राज्य स्तरीय बाल महोत्सव में शिरकत करने वाले मुख्य अतिथियों ने लगभग 70 लाख रुपये स्वैछिक कोष से देने की घोषणा की और मिनी बाल भवन की घोषणा जोकि अनुमानित 2 करोड़ 25 लाख की लागत से तैयार होगा। इस प्रकार लगभग तीन करोड़ बाल कल्याण की गतिविधियों के लिए परिषद को घोषणा हुई जोकि बड़ी उपलब्धि है। 56 बॉलीवुड, पंजाबी, हरियाणवी कलाकारों, अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों, यूपीएससी टॉपरों व अन्य गणमान्यों ने सन्देश देकर बच्चों को प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए जागरूक किया। पिछली बार किंगडम ऑफ ड्रीम्ज में आयोजित हुए ऑनलाइन राज्यस्तरीय बाल महोत्सव में 3 लाख से अधिक व रोहतक में आयोजित बाल महोत्सव में अढाई लाख बच्चों व लोगों ने शिरकत कर की थी। जोकि अबकी बार ऑनलाइन बाल महोत्सव में सर्वाधिक है। कृष्ण ढुल ने कहा कि हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद बच्चों की प्रतिभा को निखारने के लिए बड़ा मंच उपलब्ध करवा रही है। जिसके माध्यम से बच्चे अपने हुनर और अपनी प्रतिभाओं को निखार रहे हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद बच्चों की प्रतिभाओं को निखारने के लिए निरंतर प्रयासरत है और भविष्य में भी इसी प्रकार प्रयासरत रहेगी। उन्होंने दोहराया कि बाल कल्याण की हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद का उद्देश्य है और बाल कल्याण के लिए विभिन्न गतिविधियां कार्यक्रम परिषद् द्वारा चलाए जा रहे हैं। इस अवसर पर मंडल बाल कल्याण अधिकारी अमरनाथ नरवाल, बाल कल्याण अधिकारी सरोज मलिक, जिला बाल कल्याण अधिकारी वीरेंद्र यादव, जनसूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी प्रदीप दलाल, सोमनाथ, अनिल दांगी व अन्य स्टाफ उपस्थित रहा।