संविधान का पालन करना हमारा मूलभूत कर्तव्य : सुरेंद्र कटारिया 

0
215
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : हमारा देश एक प्रजातांत्रिक देश है जहां पर सभी धर्मों के लोग मिलजुलकर एक साथ रहते हैं और एक दूसरे के कार्य में सहयोग देते हैं किंतु हमारे पड़ोसी देश जो धर्म के आधार पर विभाजित हुए थे वहां के अल्पसंख्यकों पर उत्पीड़न करते आए हैं जिससे उनका हमारे पड़ोसी देशों में रहना मुश्किल हो गया है इसलिए भारत सरकार ने भारत की संसद पर एक एक बिल प्रस्तुत किया जिसे सिटीजन अमेंडमेंट बिल या नागरिकता संशोधन बिल के नाम से जाना जाता है यह बिल भारत की लोकसभा और राज्यसभा दोनों से सर्वसम्मति से पास हो गया और कानून बन गया। इस कानून के अंतर्गत हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान, वर्मा एवं बांग्लादेश के अल्पसंख्यक समुदाय जिसमें हिंदू , ईसाई सिख, जैन और पारसी सम्मिलित हैं यदि  पड़ोसी देशों से आए हुए  इन धर्मों के 5 साल से भारत वर्ष में रह रहे हैं और उनके पास ऐसा कोई दस्तावेज है तो उनको भारत की नागरिकता प्रदान की जाएगी। श्री सतीश गौतम जी  सामाजिक समरसता प्रमुख फरीदाबाद  का कहना है  कि यह बिल अब कानून बन चुका है इसलिए हम सबका उत्तरदायित्व है कि हम भारत के संविधान का सम्मान करें और उसका पालन करें। किंतु हमारे ही देश में कुछ ऐसे लोग हैं जो अपने स्वार्थ के कारण इस बिल का समर्थन नहीं करते और उनके लिए यह एक राजनीति का अखाड़ा बन गया है ।
हमारे देश की जनता जिन्हें कुछ भी पता नहीं है कि नागरिकता संशोधन अधिनियम क्या है वह थोड़े से लालच और नेताओं के भड़काने पर इस कानून का विरोध कर रहे हैं जो कि उचित नहीं है राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नगर कार्यवाह श्री जितेंद्र जी का वक्तव्य है कि  हम सभी को जो भारत के नागरिक हैं नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन करना चाहिए । नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में आज सेक्टर 21 ए फरीदाबाद के विवेकानंद पार्क पर एक जनसभा का आयोजन किया गया जनसभा में सेक्टर 21 गांधी कॉलोनी, अंनखीर, बड़खल, संजय गांधी मेमोरियल नगर और आसपास के गणमान्य व्यक्तियों ने भाग लिया । इसी उपलक्ष पर डॉ उमेश ने अपने उद्बोधन में कहा की नागरिकता संशोधन अधिनियम किसी भी भारतवासी की नागरिकता लेने के लिए नहीं है बल्कि पड़ोसी देशों से आए अल्पसंख्यक लोगों को नागरिकता देने का है इसीलिए किसी भी भारतवासी को चिंतित नहीं होना चाहिए बल्कि इस कानून का समर्थन करना चाहिए। उदबोधन के बाद नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन मे एक रैली का आयोजन किया गया इस रैली में फरीदाबाद के विभिन्न लोगों ने अपनी अपनी सवारी  मोटरसाइकिल स्कूटर लेकर राष्ट्रीय झंडा लेते हुए रैली मे भाग लिया। यह रैली सेक्टर 21 ए के विवेकानंद पार्क  फरीदाबाद से चलकर अंनखीर गांव,   बड़खल गांव ,  गांधी कॉलोनी, संजय गांधी मेमोरियल नगर और उसके बाद माता वैष्णो देवी मंदिर संजय गांधी मेमोरियल नगर से होते हुए पटेल चौक पहुंची ।सब के मुंह से एक ही वाक्य निकल रहा था कि वी सपोर्ट सिटीजन अमेंडमेंट एक्ट कि हम नागरिकता संशोधन अधिनियम का समर्थन करते हैं इस रैली में शहर के गणमान्य व्यक्तियों के अलावा फरीदाबाद के विभिन्न संस्थाओं जैसे शिव शक्ति सेवा मंडल,  ग्राम विकास समिति, नवचेतना मंडल,  पूर्वी सेवा समिति,  सेवा भारती   विश्व हिंदू परिषद,  लघु उद्योग भारती, रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन,  कुमाऊं सांस्कृतिक मंडल और विभिन्न  विद्यालयों के संचालकों ने भाग लिया। रैली सफल रही।