पुलिस चौकी मांगर की टीम ने लापता 11 वर्षीय लड़की को परिवार से मिलाया 

0
222
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : पुलिस चौकी मांगर की टीम ने एक लापता मानसिक रूप से कमजोर नाबालिक 11 वर्षीय लड़की को उसके परिजनों से मिलाने में कामयाबी हासिल की है।
आपको बताते चलें पुलिस चौकी मांगर की टीम जब अपने एरिया में पैदल गश्त कर रही थी तो अचानक उनकी नजर एक नाबालिक लड़की पर पड़ी जो कि थोड़ी डरी सहमी सी दिखाई दे रही थी।
प्रभारी चौकी मांगर उप निरीक्षक संतराम ने 11 वर्षीय नाबालिग लड़की से से गहनता से पूछताछ की तो वह अपना नाम पता बताने में असमर्थ थी और मानसिक रूप से कमजोर दिख रही थी।
प्रभारी चौकी मांगर ने तुरंत प्रभाव से एक टीम गठित की जिसमें सहायक उप निरीक्षक अनिल, महिला सहायक उप निरीक्षक मुनेश और सिपाही अरुण शामिल थे और गठित टीम ने तुरन्त नाबालिक 11 वर्षीय लड़की के परिजनों को तलाशना शुरू कर दिया व आने जाने वाले लोगो से पूछताछ की गई व आस पास के एरिया में तलाश किया गया।
बहुत तलाश करने के बाद 11 वर्षीय नाबालिक लड़की को सुरक्षित हालत मे वन स्टॉप सेंटर बादशाह खान हॉस्पिटल में छोड़ दिया गया।
प्रभारी चौकी मांगर ने जानकारी देते हुए बताया कि जब वह मानसिक रूप से कमजोर नाबालिक 11 वर्षीय लड़की का सीडब्ल्यूसी का बयान कराने ले गए तो सीडब्ल्यूसी कर्मियों ने उस लड़की को पहचान लिया और पुलिस टीम ने सीडब्ल्यूसी कर्मियों से लड़की के परिजनों का मोबाइल नंबर लेकर उनको सूचना दी और नाबालिक 11 वर्षीय लड़की को सकुशल परिवारजनो को सौंप दिया।
प्रभारी चौकी मांगर ने परिवार वालो को समाज में बच्चों के प्रति बढ़ रहे अपराधों व उनकी रोकथाम बारे मे अवगत करवाया।
अपनी 11 वर्षीय नाबालिग लड़की को वापस पाकर परिजनों के खुशी के आंसू निकल गए और पूरे परिवार ने फरीदाबाद पुलिस का धन्यवाद किया है।