सागर उर्फ़ दातु ब्लाइंड मर्डर का खुलासा, पुलिस ने दोनों आरोपियों को किया गिरफ्तार

0
312
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : क्राइम ब्रांच DLF प्रभारी उप-निरीक्षक अनिल कुमार व उनकी टीम ने सागर उर्फ़ दातु ब्लाइंड मर्डर केस का खुलासा करते हुए दोनों आरोपियों मनीष और सागर को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है|
आरोपियों को गिरफ्तार करके 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया जिसमे वारदात में प्रयोग दोनों आरोपियों के कपडे और साईकिल कानपुर से बरामद की गई है|
आपको बता दें कि दिनांक 03.02.2021 की रात त्रिखा कॉलोनी फरीदाबाद में एक आधा जला हुआ शव मिलने पर भारतीय दंड संहिता की धारा 302,201 के तहत  थाना सेक्टर 7 फरीदाबाद में दर्ज रजिस्टर किया गया था ।
मृतक की पहचान सागर उर्फ़ दातु के रूप में की गई| कुछ अनजान व्यक्तियों ने सागर उर्फ़ दातु हत्या करके उसके शव को एक लकड़ी के बने खोखे में डालकर आग लगा दी
घटना की गहनता को देखते हुए पुलिस आयुक्त श्री ओ पी सिंह  व पुलिस उपायुक्त अपराध श्री मुकेश मल्होत्रा के दिशा निर्देश पर सहायक पुलिस आयुक्त श्री अनिल कुमार ने अपराध शाखा DLF प्रभारी उप-निरीक्षक अनिल कुमार की अगुवाई में टीम का गठन किया।
क्राइम ब्रांच DLF की टीम ने मामले की गहनता से जाँच की जिसमे हत्या करने वाले अपराधियों और मृतक के बीच नशे के कारण हुई लड़ाई को लेकर हत्या करने का मामला सामने आने पर आस-पास लगे CCTV कैमरा की फुटेज चैक की और आरोपियों की पहचान सागर व मनीष के रूप में होने पर दोनों को गुप्त सूत्रों की सहायता से गिरफ्तार किया गया|
दोनों आरोपियों ने बताया कि वह तीनो आपस दोस्त थे और तीनो साथ ही नशा करते थे| दिनांक 03.02.2021 की रात को नशा करने के ऊपर ही उनका सागर उर्फ़ दातु से झगड़ा हुआ था और गुस्से में आकर सागर और मनीष ने उसी जगह पर पड़ी ईट से सागर उर्फ़ दातु के सिर में चोट मार दी जिससे उसकी मौत हो गई|
 दोनों आरोपियों ने बताया कि उसके शव को ठिकाने लगाने के लिए जिस खोखे में सागर उर्फ़ दातु रहता था उसी खोखे में डालकर खोखे को आग लगा दी और मौके से फरार हो गये|
दोनों आरोपियों को दिनांक 06.02.2021 को गिरफ्तार किया और अदालत में पेश करके 2 दिन के रिमांड पर लिया| रिमांड के दौरान दोनों आरोपियों के कपडे और साईकिल कानपुर से बरामद की गई|
आरोपी मनीष पुत्र बोधु मंडल बल्लबगढ़ के सेक्टर 3 व आरोपी सागर पुत्र अशोक बल्लबगढ़ की त्रिखा कॉलोनी का रहने वाला है|
दोनों आरोपियों को दोबारा अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है|