लॉक डाऊन के दौरान सेंट्रल बैंक में की जा रही है सोशल डिस्टेसिंग की पालना

0
281
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : देश में पिछले कई दिनों से कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ रहे मामलों ने जहां लोगों की चिंताएं बढ़ा दी है वहीं लॉक डाऊन के दौरान खुलने वाले बैंक, मेडिकल स्टोर, किरयाना स्टोर व दूध की दुकानें चलाने वाले लोग भी अब इस बीमारी से बचाव को लेकर पूरी तरह से अलर्ट हो गए है और उन्होंने भी सरकार के नियम व कायदों की पूरी तरह से पालना करनी शुरू कर दी है। इसी कड़ी में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया फरीदाबाद में सोशल डिस्टेसिंग की मजबूती से पालना की जा रही है। एनआईटी ब्रांच के मुख्य प्रबंधक पंकज कुमार गुप्ता ने बैंक परिसर में स्वयं अपने हाथों से सोशल डिस्टेंसिंग के लिए गोले बनाकर यहां आने वाले ग्राहकों को उन गोलों में खड़े होकर अपने काम करवाने की हिदायतें जारी की है। बैंक कर्मचारियों के साथ-साथ यहां अपने कामों के लिए आने वाले लोग भी इन नियमों की पालना कर रहे है। मुख्य प्रबंधक पंकज कुमार गुप्ता ने बताया कि कोरोना वायरस का प्रकोप जिस प्रकार से देश में तेजी से बढ़ रहा है, उससे आम आदमी पूरी तरह से चिंतित है क्योंकि यह बीमारी संक्रमण के जरिए एक दूसरे मनुष्य को फैलती है इसलिए सोशल डिस्टेंसिंग ही इसका एकमात्र बचाव है, जिसकी पुष्टि विश्व स्वास्थ्य संगठन भी कर चुका है। उन्होंने कहा कि बैंक के मुख्य द्वार पर कर्मचारी द्वारा बैंक में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति के हाथों को सेनेटाईज करवाया जाता है, उसके बाद ही उसकी अंदर एंट्री होती है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वह देश में लागू लॉक डाऊन की पूरी तरह से पालना करें और नेट बैकिंग के जरिए वह घर बैठे बैंकिंग का काम निपटाए और अगर जरूरी हो, तभी वह मास्क पहनकर बैंक में आए।