जवाहर नवोदय विद्यालय, मोठूका में किया गया “पूर्व छात्र मिलन समारोह” का वर्चुअल आयोजन

0
261
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 20 दिसंबर। कोरोना माहमारी को देखते हुए इस बार जवाहर नवोदय विद्यालय, मोठूका में 27वां पूर्व छात्र मिलन समारोह का वर्चुअल आयोजन किया गया।वर्चुअल छात्र मिलन समारोह का आयोजन किया गया है।जिसमें अपने देश भारत में रहने वाले पूर्व छात्रों के साथ-साथ विदेशों में रह रहे छात्रों ने भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।पूर्व छात्रों ने विद्यालय की उन्नति में सहयोग देने की बात भी कही पूर्व छात्रों के द्वारा विद्यालय में हुए विकास कार्य को लेकर विस्तृत चर्चा भी की। इस मौके पर विद्यालय के पूर्व प्राचार्य व दिल्ली मुख्यालय के सहायक आयुक्त एसके त्यागी व जयपुर संभाग के सहायक उप आयुक्त वीके त्यागी ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की।
कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलित व सरस्वती मां की वंदना करके किया गया। दीप प्रज्वलन के मौके पर विद्यालय के प्राचार्य देवेंद्र कुमार सिंह, उपप्राचार्य कुलदीप जिंदल व पूर्व छात्र भगत सिंह, ब्रजमोहन भारद्वाज पवन मौजूद रहे।
विद्यालय के विकास कार्य को आगे बढ़ाते हुए 1997 से 1999 के 3 बैच के उत्तीर्ण छात्रों ने संयुक्त रूप से लड़कियों के छात्रावास में इनवर्टर की व्यवस्था करवाई गई। जैसे किसी प्रकार की असुविधा होने पर छात्राओं की पढ़ाई में कोई बाधा ना आ सके। 77 2003 बेच के उत्तर इन छात्र-छात्राओं ने मिलकर विद्यालय को 60 केवी का एक जनरेटर उपहार स्वरूप भेंट किया। छात्रों ने विद्यालय के अध्यापक आकाश मोहन वशिष्ट के सोशल साइंस के एक प्रोजेक्ट को केरल सरकार में चयन होने पर सराहना की व बधाई दी। अध्यापक दिवस 2020 के मौके पर विद्यालय के गणित के अध्यापक उमेश राव व अध्यापिका अनीता यादव को उपायुक्त फरीदाबाद यशपाल यादव द्वारा भी पुरस्कृत किया गया है।
दिल्ली मुख्यालय के सहायक उप आयुक्त किसी भी शैक्षणिक संस्थान में उपलब्ध नहीं है। छात्रों को आत्मनिर्भर वह स्वावलंबी बनाना ही नवोदय विद्यालयों का प्रमुख उद्देश्य है। उन्होंने कहा कि नवोदय विद्यालयों ने इस कदर उपलब्धियां प्राप्त किए हैं कि आज देश विदेशों में सर्वोच्च पदों पर भी नवोदय विद्यालय के छात्र मौजूद हैं।
जयपुर संभाग के सहायक उपरोक्त वीके त्यागी ने कहा कि नवोदय विद्यालय भारत की ऐसी नींव है जहां छात्र-छात्रा आकर अपने हुनर व कला से दुनिया में अलग पहचान बना रहे हैं। आज भारत व विदेशों में ज्यादातर हर  जगह नवोदय के छात्र मिल जाते हैं। उन्होंने कहा कि वही अपने देश की बात करें तो नवोदय के छात्र-छात्रा आईएएस, आईपीएस व आईआरएस पदों पर भी आसीन हैं।
इस मौके पर विद्यालय के अध्यापक आकाश मोहन वशिष्ट, गंगाधर, अर्जुन कुमार गीते, दीपक सिरदास वाणी, सुबोध, अध्यापिका अनीता व विद्यालय से उत्तीर्ण हुए पूर्व छात्र मौके पर मौजूद थे।