महिला सशक्तिकरण पर वेबिनार का आयोजन

0
155

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : महिला सशक्तिकरण और लैंगिक समानता हासिल करना किसी भी देश के विकास के लिए महत्वपूर्ण है । महिलाओं और विकास के संदर्भ में सशक्तिकरण में महिलाओं के लिए अपने दम पर अधिक विकल्प शामिल होने चाहिए । डीएवी इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट , फरीदाबाद के
फैकल्टी डेवलपमेंट सेल ने 30 जनवरी 2021 को Under the Umbrella of Pink- Exploring Femninism महिला सशक्तिकरण पर एक वेबिनार का आयोजन किया। इस दिवस के लिए वक्ता डॉ. अर्चना भाटिया, प्रसिद्ध वक्ता, महिला रतन अवार्डी और रिकॉर्ड होल्डर (एशिया एंड इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स) थीं । उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि महिलाओं को सशक्त बनाने में मदद करने के लिए हमें उन्हें किसी भी तरह के सामाजिक दबाव से मुक्त करना होगा। महिलाओं को बढ़ने दें; अपने दम पर अपने जीवन को सोचें और समझें, महिलाओं को पुरुषों के समान मोर्चे पर लाने का एकमात्र मंत्र है। हमें उनकी उपस्थिति और कड़ी मेहनत का सम्मान करने की जरूरत है।
अपने उद्घाटन भाषण में प्रिंसिपल डायरेक्टर डॉ संजीव शर्मा ने कहा कि महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए सभी को अपना नजरिया बदलना चाहिए और महिलाओं को अपने काम में चमकने देना चाहिए। डॉ आशिमा टंडन ने उल्लेख किया कि कई सरकारी पहलों के बावजूद अंतिम जिम्मेदारी महिलाओं की है, जिन्हें अपने अधिकारों के लिए लड़ना पड़ता है । भारत और विदेशों के विभिन्न कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के ५०० से अधिक संकाय सदस्यों, विद्वानों, छात्रों और प्रधानाचार्यों जैसे नाइजीरिया, ओमान, फिलीपींस और उजबेकिस्तान ने वेबिनार के लिए पंजीकरण कराया। इस सत्र का आयोजन डॉ रितु गांधी अरोड़ा, वाइस प्रिंसिपल एवं संयोजक फैकल्टी डेवलपमेंट सेल ,डॉ आशिमा टंडन, डॉ पारूल नागी, सुश्री कनिका दुग्गल, डॉ मीरा, डॉ सुनीता बिश्नोई, सुश्री नीतू, डॉ हरीश रावत, डॉ सचिन नरूला, डॉ भवना शर्मा, सुश्री
पूजा सचदेवा, सुश्री रितु गौतम, सुश्री पूजा गौड़ और डॉ आशीष के सहयोग से किया गया। वेबिनार एक बड़ी सफलता थी और सभी ने अच्छी तरह से सराहना की।