कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने कारगिल के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की

0
452
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 26 जुलाई। हरियाणा के परिवहन मंत्री श्री मूलचंद शर्मा ने रविवार को शहीद स्मारक पर पहुंचकर कारगिल युद्ध के शहीदों को याद कर उन्हें शत-शत नमन किया।
उन्होंने कहा कि आज के दिन ही 26 जुलाई 1999 को भारत ने कारगिल युद्ध में विजय हासिल की थी। यह युद्ध 05 मई से 26 जुलाई 1999 तक चला था। इस युद्ध में सेना के 26 अधिकारियों, 21 जेसीओ और 452 सैनिकों ने अपनी शहादत देकर भारत को विजय श्री दिलाई थी।युद्ध में 66 अधिकारी, 60 जेसीओज और 1085 सैनिक घायल हो गए थे। हम उन लोगों को सलाम करते हैं जिन्होंने देश के लिए अपना जीवन बलिदान कर दिया। साथ ही हम शहीदों के परिजनों को भी सलाम करते हैं।
उन्होंने कहा कि आज के दिन कारगिल शहीदी दिवस को लेकर पूरे देश और प्रदेश में देश के लिए मर मिटने वाले शहीदों को याद किया जा रहा है। कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा कारगिल दिवस पर फरीदाबाद के सेक्टर- 12 स्थित युद्ध स्मारक पर पहुंचे और अत्यंत सादगी के साथ कारगिल शहीदों को याद करते हुए पुष्पांजलि भेंट कर शहीदों को नमन किया।
पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि कारगिल युद्ध के दौरान भारतीय सेना के जवानों ने देश के लिए शहादत देते हुए पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देते हुए विजय हासिल की थी । उन्होंने कहा की हरियाणा के जवानों ने भी बड़ी संख्या में इस युद्ध में अपनी कुर्बानिया देकर देश के लिए शहादत दी थी ।
इस मौके पर कैबिनेट मंत्री ने खासकर उस समय फरीदाबाद जिला के कारगिल शहीद गांव मोहना निवासी शहीद बिरेंद्र सिंह और गांव सोफ़्ता गांव जो कि आज पलवल जिले में है, उसके निवासी शहीद जाकिर हुसैन को भी याद किया और  कहा कि कारगिल की शहादत में फरीदाबाद का भी खास योगदान रहा है। मूलचंद शर्मा ने कहा कि आज भारतीय सेनाओं में हरियाणा के जवान बढ़-चढ़कर अपनी सेवाएं दे रहे हैं। भारतीय सेना में हर दसवाँ जवान हरियाणा का निवासी है।
इस मौके पर उनके साथ अखिल भारतीय ब्राह्मण सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पण्डित सुरेन्द्र शर्मा/बबली, ब्रजमोहन शर्मा, रिटायर्ड मेजर आर के शर्मा ,बृजलाल शर्मा, व पारस जैन, जिला सैनिक बोर्ड के सचिव मेजर आर के शर्मा सहित सैनिक परिवारों कई गणमान्य नागरिक तथा नेतागण मौजूद रहे।