वैश्विक महामारी के चलते बच्चों के हित के लिए बाल कल्याण परिषद कर रही है सराहनीय कार्य : उपायुक्त यशपाल 

0
533
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 17 मई। हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद द्वारा आयोजित जिला बाल कल्याण परिषद फरीदाबाद द्वारा ऑनलाइन राज्यस्तरीय ग्रीष्मकालीन शिविर का उद्घाटन सोमवार को उपायुक्त एवं अध्यक्ष जिला बाल कल्याण परिषद फरीदाबाद यशपाल ने किया। अपने कैंप कार्यालय से कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए उपायुक्त व यशपाल ने कहा कि बाल कल्याण परिषद बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए इस वैश्विक महामारी के चलते सराहनीय कार्य कर रहा है। उन्होंने बताया कि परिषद 17 मई से 6 जून तक ऑनलाइन ग्रीष्मकालीन शिविर का आयोजन कर रही है। जिसमें 36 सीखने की गतिविधियां / प्रतियोगिताएं आयोजित की जा रही है और प्रदेशभर के बच्चे इस गतिविधियों/ प्रतियोगिताओं में घर बैठे शिरकत करेंगे। बाल कल्याण परिषद का उद्देश्य बच्चों को उच्च स्तरीय प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराकर उनकी प्रतिभा को निखारना है।
इन प्रतियोगिताओं के आयोजन से न केवल बच्चे उबाऊपन से बचेंगे बल्कि वे सक्रिय बनेंगे व उनका मानसिक विकास भी होगा। श्री एस एल खत्री, कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि इस शिविर में हिस्सा लेने के लिए आप अपने मोबाइल, लैपटॉप या कंप्यूटर से ऑनलाइन हिस्सा ले सकते हैं जिसके लिए वेबसाइट childwelfareharyana.com पर जाकर लिंक ओपन करना है और अपनी अभिरुचि के अनुरूप आप इसमें हिस्सा ले। ये प्रतियोगिताएं 17 मई सुबह 11 बजे से शुरू हो चुकी हैं जो 6 जून तक निरंतर चलेंगी। इन प्रतियोगिताओं को साप्ताहिक तरीके से सूचीबद्ध किया गया है। 3 वर्ष से 18 वर्ष तक की आयु के सभी बच्चे अपनी अभिरुचि के अनुरूप इसमें हिस्सा ले पाएंगे। पहला सप्ताह 17 मई से 23 मई, दूसरा सप्ताह 24 मई से 30 मई और तीसरा सप्ताह 31 मई से 6 जून तक चलेगा। दिनांक 29 मई को बेबी शो होगा को कि 6 महीने की आयु से 3वर्ष तक के बच्चों के बीच रहेगा। उन्होने बताया कि इन प्रतियोगिताओं के लिए बच्चे अपने कार्यक्रम की फोटो यह वीडियो दिए गए पोर्टल पर अपलोड कर पाएंगे और प्रतियोगिताओं का हिस्सा बन पाएंगे। हर सप्ताह होने वाली गतिविधियों/ प्रतियोगिताओं में से 4 बच्चों को अच्छा प्रदर्शन करने के लिए चुना जाएगा और इस शिविर में इन 36 प्रकार के प्रतियोगिताओं में बच्चे अपनी प्रतिभा को निकालेंगे और अपनी अभिव्यक्ति अपने व्यक्तित्व को संवार पाएंगे। यही हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद का उद्देश्य है।इस मौके पर नरेन्द्र मालिक जिला बाल कल्याण अधिकारी व एसएल खत्री भी मौजूद थे।