एसी नगर में चाकु से गोदकर की गई हत्या मामले में क्राइम ब्रांच ने 4 आरोपियों को किया गिरफ्तार, वारदात में प्रयोग चाकू और कपड़े बरामद

0
190

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 3 दिन पहले गुरुवार की रात को फरीदाबाद के एसी नगर में चाकू से गोदकर की गई एक युवक की हत्या के मामले में क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में नितिन, पवन बिहारी, राहुल और हर्ष उर्फ भैंगा का नाम शामिल है। चारों आरोपी फरीदाबाद के रहने वाले हैं। वही इस मामले में इनका एक साथी आरोपी कृष्ण उर्फ पकौड़ा अभी फरार चल रहा है जिसकी पुलिस द्वारा जल्द गिरफ्तारी की जाएगी। आपको बता दें कि गुरुवार की रात मृतक शिवा और उसका साथी सुनील फरीदाबाद के एसी नगर से खाना लेकर सफदरजंग अस्पताल जा रहे थे। रास्ते में रेलवे ट्रैक के पास इन्हें नशे में धुत पांचों आरोपी मिले जहां पर शराब के नशे में धुत आरोपियों ने उन्हें गाली देना शुरू कर दिया जिसपर दोनो ने ऐतराज किया। इसी के चलते दोनों पक्षों में कहासुनी हो गई इसी झगड़े को लेकर आरोपियों ने शिवा और सुनील पर चाकू से कई बार किए जिसके कारण शिवा की मृत्यु हो गई और सुनील को गंभीर चोटें आई। पीड़ित सुनील की शिकायत पर थाना कोतवाली में आरोपियों के खिलाफ हत्या की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके मामले की जांच शुरू की गई। पुलिस आयुक्त श्री विकास अरोड़ा ने वारदात में संलिप्त आरोपियों कि जल्द से जल्द धरपकड़ के निर्देश दिए जिनके तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने तकनीकी, साक्ष्यों, वैज्ञानिक पहलुओं तथा गुप्त सूत्रों की सहायता से वारदात में शामिल 4 आरोपियों को कल सेक्टर 20 बी एरिया से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने हत्या की वारदात को कबूल करते हुए बताया कि वह नशे में धुत थे और इसी नशे की हालत में उनकी शिवा और सुनील के साथ कहासुनी हो गई जिसमें उन्होंने उनपर चाकू से हमला कर दिया। आरोपियों की निशानदेही पर वारदात में प्रयोग चाकू, जूते तथा कपड़े पुलिस द्वारा बरामद किए गए हैं। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि आरोपी नितिन तथा कृष्ण उर्फ पकोड़ा अपराधी किस्म के व्यक्ति हैं जिनके खिलाफ लूट तथा स्नेचिंग के दो मुकदमे दर्ज है जिसमें आरोपी जेल की सजा भी काट चुके हैं। इस मामले में चारों आरोपियों को आज अदालत में पेश किया गया जहां आरोपी नितिन को एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है वहीं अन्य 3 आरोपियों को जेल भेज दिया गया है। पुलिस रिमांड के दौरान आरोपी नितिन से मामले में गहनता से पूछताछ की जाएगी और फरार चल रहे इनके साथी कृष्ण उर्फ पकोड़ा को गिरफ्तार किया जाएगा।