दीपक हत्याकांड मामले में क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने तीसरे आरोपी को किया गिरफ्तार

0
83

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : एक सप्ताह पहले पुलिस चौकी एनआईटी 3 एरिया में लड़ाई झगड़े व मारपीट के बाद इलाज के दौरान हुई दीपक की मृत्यु के मामले में क्राइम ब्रांच डीएलएफ प्रभारी इंस्पेक्टर योगवेंद्र सिंह की टीम ने मामले में शामिल तीसरे आरोपी को गिरफ्तार किया है। इस मामले में क्राइम ब्रांच द्वारा दो आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है जिसमें श्याम बाबू तथा संदीप का नाम शामिल है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम अर्जुन उर्फ लाला है जो फरीदाबाद के तिलक नगर में बनी ऑटोपिन झुग्गी में रहता है। 26 जून की रात पुलिस चौकी एनआईटी 3 एरिया में लड़ाई झगडा हुआ था जिसमें आरोपी ने अपने 11-12 अन्य साथियों के साथ मिलकर 35 वर्षीय दीपक पर किसी रंजीश के चलते लाठी-डंडों से हमला किया था, जिसमें पीड़ित को काफी चोटें आई थी, पीड़ित युवक सफदरजंग हॉस्पिटल में एडमिट था जिसकी 28 जून को मृत्यु हो गई।

पुलिस जांच में सामने आया कि दीपक का किसी बात को लेकर अपने पड़ोसियों से काफी समय से झगड़ा चल रहा था जिसके चलते इनकी आपस में रंजिश हो गई थी। इसी रंजिश के चलते 26 जून की रात दोनों पक्षों में झगड़ा हो गया जिसमें लाठी डंडों की चोट के कारण दीपक की हालत गंभीर हो गई। दीपक को इलाज के लिए बीके अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां से उसे वेदांता हॉस्पिटल और बाद में सफदरजंग अस्पताल में भर्ती करवाया गया। पीड़ित पक्ष की तरफ से पुलिस में शिकायत दी गई जिसके आधार पर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके उनकी तलाश शुरू की गई। सफदरजंग हस्पताल में इलाज के दौरान दीपक की मृत्यु हो गई जिसके पश्चात मुकदमे में हत्या की धाराएं लगाई लगाकर आरोपियों की तलाश शुरू की गई। क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने इस मामले में आगे कार्रवाई करते हुए कल गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने बताया कि दीपक तथा उसके दोस्तों ने एक बार हमारे दोस्तों के साथ मारपीट की थी जिसके चलते इनका आपस में कई बार झगड़ा हुआ था और बढ़ते बढ़ते यह रंजिश में तब्दील हो गया। इसी रंजिश के चलते बदला लेने के लिए आरोपियों ने दीपक के साथ मारपीट की थी जिसमें उसकी मृत्यु हो गई। पुलिस पूछताछ पूरी होने के पश्चात आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है तथा फरार चल रहे आरोपी के साथियों की तलाश करके उनकी धरपकड़ की जाएगी।