उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने जिला लोक संपर्क एवं परिवार समिति की बैठक आई 19 शिकायतों में से 6 शिकायतों का किया निपटारा

0
73

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 03 जुलाई। डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने सेक्टर-14 निवासी सेवानिवृत्त कर्नल वीके मलिक की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए एचएसवीपी के अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिस पड़ोसी की गलती की वजह से बुजुर्ग कर्नल के मकान को नुकसान हुआ है उसके खिलाफ तुरंत कार्रवाई की जाए । उन्होंने कहा कि जिन अधिकारियों ने मकान की एनओसी दी है अगर वह दोषी पाए जाते हैं तो उनके खिलाफ 4 सीट भी की जाए। उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला रविवार को सेक्टर-12 स्थित कन्वेंशन सेंटर में जिला परिवेदना एवं कष्ट निवारण समिति की मासिक  बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

डिप्टी सीएम एवं जिला लोक संपर्क एवं परिवाद समिति के अध्यक्ष सीएम दुष्यंत चौटाला ने आज रविवार को फरीदाबाद जिला मे आई 19 शिकायतों में से 6 शिकायतों का निपटारा किया।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने सख्ती दिखाई। उन्होंने एक प्लाट धारक महिला की शिकायत पर बीपीटीपी के अधिकारियों को 300 वर्ग गज का प्लाट देने के निर्देश दिए। महिला एकता देवी को 260 वर्ग गज के प्लाट की बजाए 225 वर्ग गज का प्लाट ही दिया गया था और वह अपनी फरियाद लेकर काफी समय से कंपनी अधिकारियों के पास चक्कर लगा रही थी।  मीटिंग में उन्होंने बीपीटीपी/ BPTP एलाईट प्रीमियम के प्रबंधन के खिलाफ आई सभी शिकायतों को अलग से एक ही शिकायत में शामिल करने के निर्देश दिए। उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बीपीटीपी/BPTP के अधिकारियों को निर्देश दिए कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार लोगों को बिना वजह परेशान ना करें। इसके साथ ही उन्होंने बीपीटीपी में करीब 400 फ्लैट धारकों को उनके प्लेटो की रजिस्ट्री करने के निर्देश भी दिए। इन फ्लैटों की रजिस्ट्री में एनओसी की आ रही दिक्कतों को पूरा करने के लिए उन्होंने 1 माह का वक्त भी दिया।

उन्होंने जिन विभागों ने तकनीकी कारणों से फायर एनओसी के लिए  अप्लाई नहीं किया है  उन विभागों को दो सप्ताह का और समय भी दिया। जबकि कई विभाग तो फायर एनओसी अप्लाई करके ले भी चुके हैं।

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि अन्यथा कानूनी कार्रवाई होगी।

बैठक में रखी गई 19 शिकायतों में से 6 को क्लोज किया गया है। बाकी 11 पेंडिंग शिकायतों में सम्बंधित विभागों के अधिकारियों की कमेटियां बनाकर रिपोर्ट करने के दिशा निर्देश दिए हैं।                                                                                                      पेंडिंग रखी गई शिकायतों के लिए जिला स्तरीय कमेटी बनाकर उन कमेटियों को निर्देश दिए गए कि वे जिला लोक सम्पर्क एवं परिवार समिति की बैठक को अपनी रिपोर्ट यथाशीघ्र प्रस्तुत करें। जिला लोक सम्पर्क एवं परिवार समिति की पहली शिकायत श्रीमती मीनाक्षी रावत, सहायक प्रोफेसर हिंदी, राजकीय  महाविद्यालय द्वारा रखी गई। इस शिकायत का निस्तारण कर दिया गया। दूसरी शिकायत हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण, फ़रीदाबाद से संबंधित है । तीसरी शिकायत चरण सिंह डागर की थी। उनकी शिकायत का मुख्य उद्देश्य भूजल को बचाना है। जिसको अलग अलग विभागों को सौंपा गया और इस पर सुनिश्चित कारवाई कर समाधान निकालने को कहा गया है। इसी प्रकार चौथी शिकायत अजय कुमार बहैल की थी, जिसका निपटारा कर दिया गया। जिला लोक सम्पर्क एवं परिवार समिति की बैठक में पांचवी शिकायत बीपीटीपी की ही थी, इसके लिए सीपी की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित की गई है, जो आगामी मीटिंग में अपनी रिपोर्ट देगी और इस शिकायत को पेंडिंग रखा गया। परिवार समिति की बैठक की अन्तिम शिकायत खाद्य एवं आपूर्ति विभाग द्वारा राशन वितरण से संबंधित थी। जिस पर उप मुख्यमंत्री कम समिति के अध्यक्ष दुष्यंत चौटाला ने डीएफएससी को निर्देश दिया कि वे जितने भी ऐसे मामले हैं उनका यथा शीघ्र निपटान करें और अपना रिकॉर्ड मेंटेन रखें।

जिला लोक संपर्क संपर्क सेवा समिति की बैठक में विधायक सीमा त्रिखा, विधायक नरेंद्र गुप्ता, विधायक राजेश नागर, विधायक नीरज शर्मा, भाजपा के जिला अध्यक्ष गोपाल शर्मा, जजपा के जिला अध्यक्ष राजेश भाटिया, पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा, उपायुक्त जितेंद्र यादव, हुड्डा के प्रशासक जितेंद्र दहिया, एफएमडीए की सीईओ डॉ गरिमा मित्तल, एमसीएफ के अतिरिक्त आयुक्त अभिषेक मीणा, सीईओ जिला परिषद सतेन्द्र दुहन, एसडीएम फरीदाबाद परमजीत चहल, एसडीएम बल्लभगढ़ त्रिलोकचंद, सीटीएम नसीब कुमार, हुड्डा के एस्टेट ऑफिसर अमित कुमार, डीसीपी हेडक्वार्टर मुकेश मल्होत्रा, अमर नरवत, करामत अली, जग्गी मेंबर, दीपक चौधरी, सरदार परमिंदर सिंह, कुलदीप तेवतिया, अधिवक्ता राजेश रावत, गगन अरोड़ा, निशांत रस्तोगी, रवि शर्मा, अधिवक्ता मानिक मोहन शर्मा, अनिल भाटी, डालचंद सारण,विशाल भाटिया,सतीश फोगाट, मनोज गोयल.अजय भडाना,सीमा सीतोरिया, हरमीत कौर श्वेता शर्मा श्रवण कराना सहित सभी कष्ट निवारण समिति के सदस्य और सभी विभागों के जिला अधिकारी तथा अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।