भारत के प्रसिद्ध बैडमिंटन खिलाड़ी पुलेला गोपीचंद की संस्था के सहयोग से एमवीएन स्कूल सेक्टर-88 में बैडमिंटन अकादमी का शुभारंभ

0
97

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 6 अगस्त। फरीदाबाद सेक्टर-88 का एक प्रमुख शैक्षणिक संस्थान मॉडर्न विद्या निकेतन (एमवीएन) स्कूल, महान बैडमिंटन खिलाड़ी श्री पुलेला गोपीचंद द्वारा शुरू किये गए बैडमिंटन गुरुकुल अकादमी, हैदराबाद के साथ जुड़कर एक बहुत ही शानदार पहल का हिस्सा बन गया है। श्री पुलेला गोपीचंद भारत की राष्ट्रीय बैडमिंटन टीम के मुख्य राष्ट्रीय कोच और बैडमिंटन गुरुकुल के संस्थापक और संरक्षक भी हैं। स्कूल परिसर में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस के दौरान दोनों पक्षों ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। इस सहयोग का उद्देश्य छात्रों को बैडमिंटन में उकृष्टता प्राप्त करने में मदद करना है।

कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि श्री पुलेला गोपीचंद उपस्थित रहे। इसके अलावा बैडमिंटन गुरुकुल अकादमी की सह-संस्थापक और एमडी सुश्री सुप्रिया, एमवीएन सोसाइटी के चेयरमैन श्री वरुण शर्मा और एमवीएन सोसाइटी की मैनेजिंग डायरेक्टर सुश्री कांता शर्मा भी उपस्थित थीं। आयोजन के दौरान, छात्रों, शिक्षकों और अतिथियों को बैडमिंटन के महान खिलाड़ी पुलेला गोपीचंद के साथ बातचीत करने का अवसर मिला, जिन्होंने खेल की बारीकियों पर चर्चा की। उन्होंने लोगों से बात करते हुए बताया कि उन्होंने बैडमिंटन गुरुकुल की शुरुआत फिजिकल लिटरेसी को बढ़ावा देने और एक संगठित और व्यवस्थित तरीके से गुणवत्तापूर्ण कोचिंग के माध्यम से सकारात्मक खेल की दिशा में आगे बढ़ने के लिए किया।

प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए पुलेला गोपीचंद ने कहा, “भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों ने ऐतिहासिक जीत के साथ खुद को एक सुपरपॉवर के रूप में स्थापित किया है। इस तथ्य की पुष्टि इस बात से होती है कि हमारे चैंपियन ने मई 2022 में थॉमस कप फाइनल में 3-0 से जीत के साथ 14 बार के चैंपियन इंडोनेशिया को पीछे कर दिया था।“

उन्होंने आगे कहा कि, “यह सही समय है जब हम युवाओं को खेल में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करें। मुझे एमवीएन के साथ जुड़कर खुशी हो रही है, जो फिजिकल लिटरेसी को बढ़ावा देने के लिए यह शिक्षा और खेल पर समान रूप से ध्यान देता है। मुझे उम्मीद है कि एमवीएन स्कूल और बैडमिंटन गुरुकुल अकादमी, हैदराबाद के बीच साझेदारी भविष्य के बैडमिंटन चैंपियन को सशक्त बनाएगी।“

इस कार्यक्रम में बोलते हुए, बैडमिंटन गुरुकुल अकादमी की सह-संस्थापक और प्रबंध निदेशक सुश्री सुप्रिया ने कहा, “एमवीएन सेक्टर-88 से जुड़ना मेरे लिए सम्मान और सौभाग्य की बात है। यह एसोसिएशन बच्चों में शैक्षणिक और फिजिकल लिटरेसी को विकसित करने के लिए खेल और शिक्षा को एक साथ जोड़ती है और उन्हें खेल और क्लास दोनों में उत्कृष्टता प्राप्त करने में सक्षम बनाती है।“

एमवीएन सोसाइटी के चेयरमैन श्री वरुण शर्मा ने नए एसोसिएशन पर प्रसन्नता व्यक्त की तथा इसे प्रतिभा और अनुभव का संगम बताते हुए कहा, “मैं श्री गोपीचंद का आभारी हूं कि उन्होंने अपनी आभा और उपलब्धियों के साथ संस्थान की विरासत को समृद्ध करने के लिए एमवीएन परिवार के साथ जुड़ने की सहमति दी।“ उन्होंने आगे कहा कि, “एमवीएन-88 ई2 पर जोर देता है, जो शिक्षा और एक्सरसाइज का एक सामंजस्यपूर्ण मेल है। हमारा विज़न यह है कि एक तरफ हम शैक्षिक में सबसे बेहतर बनाएं और दूसरी तरफ अंतर-अनुशासनात्मक चैंपियन तैयार करते हुए राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बेहतरीन नेतृत्व को आगे बढाएं। इस साझेदारी के साथ, हमें यकीन है कि एमवीएन इच्छुक खेल प्रेमियों के लिए वन-स्टॉप डेस्टिनेशन बन जाएगा।“

सुश्री विभा मेंदीरत्ता, प्राचार्य, एमवीएन ने कार्यक्रम में भाग लेने के लिए विशिष्ट अतिथियों को धन्यवाद दिया और कहा, “ मुझे विश्वास है कि यह एसोसिएशन खेल के सर्वोत्तम ज्ञान को एक साथ लाएगा जिससे शिक्षार्थियों को इस क्षेत्र में उत्कृष्टता प्राप्त करने में मदद मिलेगी। मुझे उम्मीद है कि इस साझेदारी से कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय चैंपियन उभरेंगे।“

एमवीएन स्कूल के बारे में
एमवीएन को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के प्रति अपनी प्रतिबद्धता और जीवन में सफलता के लिए युवाओं के दिमाग और कौशल को बेहतर बनाने के लिए जाना जाता है। इसके संस्थापक श्री गोपाल शर्मा ऊँचे आदर्शों, महान दूरदृष्टि और दृढ़ता के व्यक्ति थे। संस्थापक के सपनों और जुनून की विरासत को बनाए रखते हुए, एमवीएन सीनियर सेकेंडरी स्कूल, सेक्टर -88 , 2017 में स्थापित किया गया था। श्रीमती कांता शर्मा, एमवीएन सोसाइटी की प्रबंध निदेशक, और चेयरमैन श्री वरुण शर्मा के कुशल नेतृत्व और मार्गदर्शन में संस्थान सबसे प्रतिष्ठित और शिक्षा के क्षेत्र में अन्य प्रतिस्पर्धी स्कूलों में से एक के रूप में विकसित हुआ है।

एमवीएन सेक्टर-88 की कल्पना एक कठोर शैक्षणिक पाठ्यक्रम के साथ खेल और शारीरिक फिटनेस के एक साथ लाने के लिए की गई थी ताकि इसके छात्रों की संज्ञानात्मक, भावात्मक और मनोप्रेरणा संबंधी जरूरतों को पूरा किया जा सके। यह अकादमिक उत्कृष्टता की एमवीएन विरासत को आगे बढ़ाता है और इसे स्वस्थ शरीर में स्वस्थ दिमाग के अस्तित्व के साथ जोड़ता है। स्कूल E2 के दृष्टिकोण का अनुसरण करता है, जो शिक्षा और व्यायाम का एक सामंजस्यपूर्ण मेल है।