एसडीएम बल्लभगढ़ त्रिलोक चंद की अध्यक्षता में हुई बैठक

0
111

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 28 अप्रैल। आज वीरवार को एसडीएम कार्यालय बल्लभगढ़ में एसडीएम त्रिलोक चंद की अध्यक्षता में बैठक हुई। एसडीएम  त्रिलोक चंद ने गांव गढ़खेड़ा में ग्रामीणों की समस्याओं के निवारण के लिए अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी।

उन्होंने कहा कि जिस अधिकारी को जो भी दायित्व प्रशासन द्वारा दिया गया है उसे बेहतर तरीके से आपसी तालमेल करके पूरा करना सुनिश्चित करें। ग्रामीणों की जरूरत के हिसाब से सभी मूलभूत सुविधाओं को पूरा करें। बैठक में स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, कृषि विपणन बोर्ड, पशु पालन एवं डेयरी, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, राजस्व विभाग, जिला विकास एवं पंचायत विभाग, सूचना जनसंपर्क एवं भाषा विभाग सहित सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

एसडीएम त्रिलोक चंद ने कहा कि उपायुक्त जितेन्द्र यादव के कुशल मार्गदर्शन में आगामी 30 अप्रैल को अमृत महोत्सव की श्रंखला में गांव गढ़खेड़ा में जिला प्रशासन द्वारा खुला दरबार लगाया जाएगा। जिला प्रशासन आजादी के सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार प्रशासन गावों में रात्रि प्रवास कर रहा है। डीसी जितेंद्र यादव की अध्यक्षता में गांव गढ़खेड़ा में पूरा प्रशासन मौके पर जाकर खुला दरबार लगाएगा। गांव की तमाम मूलभूत समस्याओं का निदान मौके पर ही किया जाएगा और लोगों की निजी समस्याएं सुनकर भी उनका भी निदान खुले दरबार में किया जाएगा।

जिला प्रशासन द्वारा गांव गढ़खेड़ा में खुला दरबार लगाने के लिए तैयारियां पूरी कर ली गई है। आपकों बता दें शनिवार सायं जिला प्रशासन के तमाम अधिकारी अपने पूरे दलबल के साथ खुले दरबार में गढ़खेड़ा ग्राम में रात्रि प्रवास के लिए पहुंचेंगे और जिस विभाग से संबंधित जो भी लोगों की शिकायत होगी उसका मौके पर ही समाधान किया जाएगा।

जिला प्रशासन आजादी के अमृत महोत्सव की श्रंखला में सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार प्रशासन गावों में रात्रि प्रवास के जरिये ग्रामीण क्षेत्र में जाकर गावों के विकास कार्यों का ग्रामीणों के साथ सलाह मशवरा करके आमूल-चूल परिवर्तन लाना है। रात्रि प्रवास के जरिये गढ़खेड़ा निवासी भी प्रशासन का पूरा सहयोग करने के लिए तैयार हैं और वहां भी ग्रामीणों द्वारा एक अलग से देश और प्रदेश में ग्रामीण विकास की पहचान बनाने के लिए प्रयासरत हैं। इसके लिए ग्रामीण सबसे पहले स्वच्छता अभियान चलाकर गांव की साफ-सफाई करेंगे  और एक पौधा पितृरो/ पूर्वजों के नाम रोपण करके गांव के हर घर के सदस्य उसका लालन-पालन करेंगे। गांव के पर्यावरण को शुद्ध करने में अपना विशेष योगदान देंगे। जिला सूचना जनसंपर्क एवं भाषा विभाग की टीम सांस्कृतिक कार्यक्रमों का रंगारंग आयोजन करेगी।

बैठक में एसएमओ डॉ. विजय सिंह, कृषि अधिकारी लक्ष्मण सिंह, सचिव ऋषि कुमार, सहायक सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी संजय कुमार, पशु पालन एवं डेयरी विभाग से डॉ. विनोद दिया, रघुवीर सिंह, गीता, पुष्पा रानी सहित अन्य विभागों के कर्मचारियों ने भाग लिया।