सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि स्वच्छता के लिए अग्रणी भूमिका अदा करें : एडीसी सतबीर सिंह

0
188

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 28 अक्टूबर। अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर सिंह की अध्यक्षता में एमसीएफ के वार्ड नम्बर-31 को क्लीन एवं ग्रीन बनाने के लिए आज वीरवार को लघु सचिवालय के बैठक कक्ष में एक बैठक आयोजित की गई। बैठक में वार्ड पार्षद, विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों और तकनीकी तथा सफाई से जुड़े अधिकारियों ने भाग लिया।

वार्ड नम्बर 31 को क्लीन एवं ग्रीन बनाने के लिए अधिक से अधिक जागरूक जनभागीदारी कैसे हो विषय पर गहनता से विचार विमर्श करके सुझाव साझा किए गए।

एडीसी ने कहा कि स्वच्छता का कार्य आसान नहीं है और असम्भव भी नहीं है। चुनौतियों का भी सामना करके हर हाल में फरीदाबाद और फरीदाबाद में अपने वार्ड-31 को क्लीन व ग्रीन बनाकर देश में नम्बर वन बनाना है। उन्होंने कहा कि हम सबकी है यह जिम्मेदारी हमारा कचरा सम्भाल कर उसका निपटारा करना है जरूरी।

एडीसी ने सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों से आह्वान किया कि वे अपने-अपने नजदीकी क्षेत्र में सफाई व्यवस्था दुरूस्त रखने में अपना सहयोग दें और स्वच्छता सैनिक बनकर कार्य करें।

उन्होंने कहा कि एमसीएफ के वार्ड 31 में लोगों के सहयोग से पॉयलेट प्रोजेक्ट शुरु किया गया है, जिसके सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि फरीदाबाद शहर को स्वच्छ बनाने के लिए लोगों को स्वयं भी जिम्मेदारी लेनी होगी। उन्होंने कहा कि वे जागरूक नागरिक की भूमिका निभाएं। जहां भी कचरा नजर आए तो उसके बारे में नगर निगम प्रशासन को बताएं ताकि उसको समय पर उठाया जा सके। उन्होंने कहा कि इस वास्तव में फरीदाबाद को क्लीन और ग्रीन का रूप तभी दिया जा सकता है, जब गंदगी नजर न आए।

अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर मान ने कहा कि लोग यदि सार्थक प्रयास करते हैं तो निश्चित रूप से परिणाम भी सार्थक होंगे। उन्होंने बैठक के दौरान मौजूद सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों से उनके नजदीकी क्षेत्र में कार्य करने की अपील की। उन्होंने कहा कि यदि सफाई ठेकेदार या सफाई कर्मचारी समय पर नहीं आते हैं तो उसके बारे में नगर निगम प्रशासन या उन्हें को सूचना दें।

इस कार्य की जागरूकता के लिए मिडिया कर्मियों और स्कूली विद्यार्थियों को भी भागीदार बनाया जाएगा।

सभी घरों का सूखा व गीला कुड़ा अलग-अलग इकट्ठा करके उसका बेहतर तरीक़े से निपटारा करवाना है। इसके अलावा जरूरत पड़ने पर कानूनी कार्यवाही और पुलिस की सहायता की कार्यवाही भी अमल में लाने से पहरेज नही किया जाएगा।

आपको बता दें वार्ड नम्बर 31में लगभग 9000 हाऊस हैं। इन सभी गीला और सूखा कुड़ा अलग अलग घर से ही करवा कर उठाना है। वैण्डर की कल्केशन करवाने में भी पूरा सहयोग देना है।

बैठक में वार्ड की मैनेजमेंट प्लान, रुट चार्ट, आरडब्ल्यूए और वैलफेयर एसोसिएशन का प्रर्फामा भरने बारे विस्तार पूर्वक चर्चा की गई।

इस दौरान पार्षद छत्रपाल, नगर निगम के स्वच्छता कोर्डिनेटर अतुल सहगल, पूजा गुप्ता, मोनिका शर्मा, प्रियंका गर्ग ने अपने सुझाव सांझे किए।

बैठक में विनोद भाटी, अंकुर सिहं, बलवान शर्मा, प्रोफेसर अशोक तंवर, मुकेश तलवार, जोगेंद्र,ईको ग्रीन के क्षेत्रीय अधिकारी आशीष दुबे, ग्रामीण स्वच्छता कोर्डिनेटर उपेंद्र सिंह, बीरसिंह, डीपी शर्मा मौजूद रहे।