मुख्यमंत्री अन्तोदय परिवार योजना के तहत आगामी पखवाड़े में आयोजित होगें 11 रोजगार मेले

0
63

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 25 नवंबर। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार जिला में मुख्यमंत्री अंतोदय परिवार उत्थान योजना के तहत जिन परिवारों की वार्षिक आय न्यूनतम आय ₹180000 रूपये की वार्षिक धनराशि से कम है। जिला मे ऐसे 600 परिवारों को विभिन्न विभागों द्वारा चलाई जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं के तहत स्वरोजगार दिलवाले सहित रोजगार का प्रबंध करना सुनिश्चित किया जाएगा।

जिला में मुख्यमंत्री अन्तोदय परिवार योजना को सफल बनाने के लिए अन्तोदय ग्राम उत्थान मेलों का आयोजन करके ऐसा कोई भी गरीब परिवार नहीं छोड़ा जाएगा जिसको या तो रोजगार मिले और या उस परिवार का स्वयंरोजगार सुनिश्चित हो। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि आगामी 29 नवम्बर और आठ दिसम्बर को जिला के जोन नम्बर एक के 124 गरीब परिवारों के लिए लघु सचिवालय बड़खल में एसडीएम कम् जोन नम्बर एक नोडल अधिकारी पंकज सेतिया की देखरेख में और उनकी ही अध्यक्षता में सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार अन्तोदय ग्राम उत्थान मेले का आयोजन करके गरीब परिवारों के सदस्यों को रोजगार या स्वयं रोजगार स्थापित करवाया जाएगा।

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने आगे बताया कि 30 नवम्बर को जिला के जोन नम्बर तीन के 29 गरीब परिवारों के लिए लघु सचिवालय के बैठक कक्ष 603 में एसडीएम कम् जोन नम्बर तीन नोडल अधिकारी परमजीत चहल की देखरेख में और उनकी ही अध्यक्षता में सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार अन्तोदय ग्राम उत्थान मेले का आयोजन करके 29 गरीब परिवारों के सदस्यों को, एक दिसम्बर को तिगांव ब्लाक के 47 गरीब परिवारों के लिए बीडीपीओ कार्यालय तिगांव में बीडीपीओ कम्  तिगांव ब्लाक के नोडल अधिकारी की देखरेख में और उनकी ही अध्यक्षता में, आगामी 3 दिसम्बर को जिला के जोन नम्बर पांच के 52 गरीब परिवारों के लिए सामुदायिक भवन सेक्टर-31 में एमसीएफ के ज्वाइंट कमीशनर ओल्ड फरीदाबाद कम् जोन नम्बर पांच के नोडल अधिकारी की देखरेख में और उनकी ही अध्यक्षता में, 6 दिसम्बर को जिला के फरीदाबाद ब्लाक के 55 गरीब परिवारों के लिए बीडीपीओ कार्यालय सेक्टर-16 में बीडीपीओ कम् फरीदाबाद ब्लाक नोडल अधिकारी  की देखरेख में और उनकी ही अध्यक्षता में सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार अन्तोदय ग्राम उत्थान मेले का आयोजन करके 55 गरीब परिवारों के सदस्यों को रोजगार या स्वयं रोजगार स्थापित करवाया जाएगा।

उपायुक्त ने बताया कि 10 दिसम्बर व 13 दिसम्बर को बल्लभगढ़ ब्लाक के 171 गरीब परिवारों के लिए बीडीपीओ कार्यालय में बीडीपीओ कम् बल्लभगढ़ ब्लाक के नोडल अधिकारी की देखरेख में और उनकी ही अध्यक्षता में, आगामी 15 दिसम्बर को जिला के जोन नम्बर चार के 56 गरीब परिवारों के लिए बल्लभगढ़ एसडीएम कार्यालय लघु सचिवालय में एसडीएम कम् जोन नम्बर चार नोडल अधिकारी त्रिलोक चंद की देखरेख में और उनकी ही अध्यक्षता में सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार अन्तोदय ग्राम उत्थान मेले का आयोजन करके 56 गरीब परिवारों के सदस्यों को रोजगार या स्वयं रोजगार स्थापित करवाया जाएगा। उन्होंने बताया कि 17 व 22 दिसम्बर को जिला के जोन नम्बर एक के 153 गरीब परिवारों के लिए लघु सचिवालय एसडीएम कार्यालय बड़खल में एमसीएफ फरीदाबाद के ज्वाइंट कमीशनर कम् जोन नम्बर एक नोडल अधिकारी की देखरेख में और उनकी ही अध्यक्षता में सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार अन्तोदय ग्राम उत्थान मेले का आयोजन करके 153 गरीब परिवारों के सदस्यों को रोजगार या स्वयं रोजगार स्थापित करवाया जाएगा।

इसी प्रकार उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल स्वयं अंत्योदय परिवार उत्थान योजना की समीक्षा कर रहे हैं और इस बारे में मुख्यमंत्री मनोहर लाल गंभीरता से कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार विभिन्न विभागों की जो भी जन कल्याणकारी योजनाएं हैं, उन योजनाओं के तहत अंत्योदय परिवार उत्थान योजना को शामिल करके जिला में ऐसे परिवार जिनकी न्यूनतम आय 180000 से कम आय हैं। उन परिवारों को चिह्नित करके पहले उन परिवारों को रोजगार या स्वयं रोजगार का प्रबंध करना सुनिश्चित किया जा रहा है।

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि जिला में ऐसे जरूरतमंद लोगों को जो अंतोदय परिवार उत्थान योजना में आते हैं। उन परिवारों के सदस्यों को अधिक से अधिक  नौकरी दिलवानी है और नौकरी ना मिले तो उन परिवारों का स्वयंरोजगार करवाना है। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने जिला शहरी स्थानीय निकाय, पशुपालन एवं डेयरी विभाग, महिला विकास निगम, पिछड़ा वर्ग विकास कल्याण निगम, हरिजन कल्याण निगम, ग्रामीण विकास विभाग एमसीएफ,जिला ग्रामोद्योग निगम,जिला विकास एवं पंचायत विभाग सहित तमाम विभागों के जिला अधिकारियों को यह दिशा निर्देश देते हुए कहा कि जिला के अतिरिक्त उपायुक्त को इस कार्य के लिए नोडल अधिकारी बनाया गया है। एसडीएम फरीदाबाद, एसडीएम बल्लभगढ़, एसडीएम बड़खल, एमसीफ के दो ज्वाइंट कमिश्नर, बीडीपीओ को अलग-अलग से अपने-अपने क्षेत्रों के जोनल अधिकारी बनाए गए हैं।

उन्होंने कहा कि सभी जोनल अधिकारी आपस में तालमेल करके जिला में गरीब परिवारों को रोजगार दिलवाना या स्वरोजगार स्थापित करना सुनिश्चित करें। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने विभिन्न विभागों के जिला अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वह जिस भी परिवार को रोजगार या स्वयं रोजगार दिलवाते हैं। उसकी सेक्सस स्टोरी बनवाकर भी जिला सूचना एवं जनसंपर्क विभाग से तालमेल करके उसे अखबारों, इलक्ट्रोनिक मीडिया, सोशल मीडिया पर प्रकाशित करवाना भी सुनिश्चित करें।