“शासन कम सुशासन अधिकतम” के मूल मंत्र के साथ देश की सेवा में लगी है भाजपा सरकार : कृष्णपाल गुर्जर

0
112

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 25 सितंबर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार संकल्प है। “शासन कम से कम सुशासन अधिकतम” इस मूल मंत्र के साथ देश की सेवा में लगी भाजपा सरकार आज चारों और विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े लोगों की जरूरतों एवं आवश्यकताओं को पूरा करते हुए विकास के नए आयाम स्थापित कर रही है। जिसके अर्न्तगत आमजन से जुड़ी अनेकों महत्वपूर्ण  जन कल्याणकारी योजनाओं मे प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना भी शामिल है। यह विचार ऊर्जा भारी उद्योग केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने आज भारत कॉलोनी के विभिन्न दो स्थानों पर प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत वितरित किए जा रहे अन्न  के निरीक्षण के अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहे।  उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार ने हमेशा गरीबों व जरूरतमंद लोगों को ध्यान में रखकर योजनाओं का बेहतर  क्रियान्वयन करने के प्रयास किया है और संबंधित विभाग के अधिकारियों को चाहिए कि वे अपने विभाग से जुड़ी जिम्मेदारियों को पूरी निष्ठा ईमानदारी से पूरा करते रहे इन योजनाओं का जन अपेक्षाओं के अनुरूप अधिक से अधिक प्रचार- प्रसार करें। उन्होंने आमजन से भी योजनाओं के सम्बंध में अपील की कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना कोरोना काल में आम आदमी की जरूरत को ध्यान में रखकर बनाई गई है। इस योजना के तहत पात्र परिवार के प्रत्येक व्यक्ति को मुफ्त 5 किलो अनाज प्रत्येक माह देने का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत जिन लोगों को अनाज मिल रहा है। वे इस बात का भी ध्यान रखें कि यह अनाज गरीब व जरूरत परिवार के लोगों के लिए विशेष तौर पर उनकी जरुरतों को ध्यान में रख कर वितरित  किया जा रहा है। इसमें जो लोग सक्षम है वे कृपा इस योजना का बेवजह लाभ लेकर अन्य पात्र परिवारों के हकों का हनन करते हुए इस योजना का दुरुपयोग ना करें ताकि संबंधित व्यक्ति को इसका लाभ मिल सके। उन्होंने अधिकारियों से भी कहा कि वे इस बात का विशेष ध्यान रखें कि इस योजना का लाभ सिर्फ पात्र परिवार के व्यक्तियो को ही मिले इसके अतिरिक्त किसी भी व्यक्ति के जानबूझकर, झूठ बोलकर योजना का लाभ लिए जाने व एसा कर दोषी पाए जाने पर उसके खिलाफ सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई अमल में लाई जाए। उन्होंने आमजन से अपील की वे इन योजना का भरपूर लाभ लेने के लिए योजना के बारे में खाद्य आपूर्ति विभाग के अधिकारियों से संपर्क करें और इस बारे जानकारी प्राप्त कर इन योजना का भरपूर लाभ लें।