खेलते खेलते लापता हुआ 6 वर्षीय बच्चा, पुलिस ने 5 घंटे कड़ी मशक्कत करके परिजनों को लौटाया

0
328
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : पुलिस आयुक्त श्री ओ पी सिंह के दिशा निर्देशों के तहत कार्य करते हुए थाना मुजेसर की टीम ने लावारिस अवस्था में मिले 6 वर्षीय बच्चे को उनके परिजनों तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई है।
थाना मुजेसर की पुलिस टीम रात्रि 9:00 बजे सेक्टर 23 क्षेत्र स्थित मार्केट में गश्त कर रही थी कि तभी उन्हें एक 6 वर्षीय बच्चा लावारिस हालत में घूमता हुआ दिखाई दिया।
बच्चे की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए पुलिस टीम बच्चे के पास पहुंची और उससे उसके परिजनों के बारे में पूछताछ करने की कोशिश की।
6 वर्षीय बच्चा अपना व अपने पिता का नाम बताने में तो समर्थ था परंतु उसे अपने घर का पता याद नहीं था।
बच्चे को उसके परिजन तक पहुंचाने के उद्देश्य से पुलिस टीम ने आसपास के लोगों से बच्चे के परिजनों के बारे में पूछताछ की परंतु इसके बारे में उन्हें कोई सूचना प्राप्त नहीं हुई।
इसके पश्चात पुलिस टीम बच्चे को अपने साथ लेकर आसपास के क्षेत्र में करीब 5 घंटे तक घूमती रही। अंततः रात्रि 2:00 बजे पुलिस को बच्चे के चाचा के घर का पता चला जिस पर पहुंच कर उन्होंने बच्चे के बारे में उसके चाचा को बताया और बच्चे के माता-पिता की जानकारी प्राप्त की।
बच्चे के चाचा ने बताया कि बच्चे के माता पिता संजय कॉलोनी में किराए के मकान पर रह रहे हैं।
पुलिस टीम बच्चे को लेकर उसके चाचा द्वारा बताए गए पते पर पहुंची और उसके माता-पिता को पूरी घटना के बारे में अवगत कराया।
बच्चे के माता-पिता ने बताया कि वह श्याम के समय से ही बच्चे की तलाश कर रहे थे परंतु काफी पूछताछ करने के पश्चात भी जब उन्हें अपने बच्चे की सूचना नहीं मिली तो वह अगले दिन अपने बच्चे को ढूंढने का निश्चय के साथ ही सो गए थे।
पुलिस टीम ने बच्चे को उसके माता-पिता के हवाले करते हुए उन्हें हिदायत दी कि समाज में अपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्ति इस प्रकार के मौकों का फायदा उठाते हैं और लापता बच्चों को गलत धंधों में धकेलकर उनके भविष्य को बर्बाद करने की कोशिश करते हैं इसलिए बच्चे के परिजनों को चाहिए कि वह अपने बच्चों का अच्छे से ख्याल रखें और उनकी देखभाल करें।
अपने बच्चे को वापस पाकर उसके परिजन बहुत खुश हुए और उन्होंने पुलिस टीम द्वारा किए गए सराहनीय कार्य के लिए उन का तहे दिल से धन्यवाद किया।
पुलिस आयुक्त श्री ऑफिस पुलिस टीम द्वारा की गई मेहनत और सच्ची निष्ठा के लिए उन को प्रोत्साहित करते हुए भविष्य में इसी प्रकार लोगों की सहायता करने के लिए प्रेरित किया।