शाईं एक्सपोर्ट कंपनी में महिला विरुद्ध अपराध व कोरोना महामारी से बचाव के लिए अपनाई जाने वाली सावधानियों के बारे में किया जागरूक

0
168
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : पुलिस आयुक्त श्री ओ पी सिंह के दिशा निर्देशों के तहत कार्य करते हुए महिला पुलिस थाना सेंट्रल प्रभारी इंस्पेक्टर गीता ने साईं एक्सपोर्ट कंपनी में कार्यरत महिलाओं को महिला विरोध घटित हो रहे अपराधों व कोरोना महामारी से बचाव के लिए अपनाई जाने वाली सावधानियों के बारे में जागरूक किया।
इंस्पेक्टर गीता ने घरेलू हिंसा के बारे में महिलाओं को जागरूक करते हुए बताया कि इस पुरुष प्रधान समाज में महिलाओं के अधिकारों को दबाकर विभिन्न प्रकार से उनका शोषण किया जाता है और सामाजिक बंधनों के चलते महिलाएं उनके खिलाफ आवाज नहीं उठा पाती।
पुरुष चाहे सौ तरह के बुरे काम करके घर आए परंतु इसका दोष भी महिलाओं के ऊपर मढ़ दिया जाता है जिसका खामियाजा उन्हें गाली गलौज या मारपीट के रूप में झेलना पड़ता है।
प्रकृति ने महिला और पुरुष के बीच कोई भेदभाव नहीं किया परंतु कुछ नासमझ पुरुष महिलाओं को प्रताड़ित करना अपना जन्मसिद्ध अधिकार समझते हैं।
महिलाओं को इस प्रकार के अपराधों के विरुद्ध जागरूक करते हुए इंस्पेक्टर गीता ने कहा की महिलाओं को उनके विरुद्ध घटित हो रहे घरेलू व सामाजिक अपराधियों के विरुद्ध आवाज उठानी चाहिए और इसकी शिकायत पुलिस प्रशासन से करनी चाहिए।
पुलिस प्रशासन द्वारा इन अपराधों के आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी इसलिए महिलाएं जहां कहीं भी महिला विरुद्ध अपराध घटित होता देखें तो इसकी सूचना 1091 पर देकर उन महिलाओं के विरुद्ध अपराधों में कमी लाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दें।
इसके साथ ही उन्होंने बताया कि उन्हें किसी भी प्रकार से डरने की जरूरत नहीं है। पुलिस प्रशासन द्वारा इस प्रकार के अपराधों से पीड़ित महिलाओं को संरक्षण दिया जाएगा।
महिलाओं की सुरक्षा के लिए पुलिस थानों के साथ-साथ दुर्गा शक्ति का गठन किया गया है जो अपराधियों के विरुद्ध महिलाओं के अधिकारों की रक्षा करने में शत प्रतिशत योगदान देगी।
कोरोना से बचाव के लिए अपनाई जाने वाली सावधानियों के बारे में महिलाओं को जागरूक करते हुए इंस्पेक्टर गीता ने बताया कि महिलाएं जल्द से जल्द कोरोना वैक्सिंन लगवाएं और जब तक टीकाकरण नहीं हो जाता तब तक इसके बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करें।
फेस मास्क की महत्वता को बताते हुए इंस्पेक्टर गीता ने कहा कि कोरोना से लड़ाई में फेस मास्क सबसे कारगर हथियार है इसलिए घर से बाहर निकलते समय अपने मुंह और नाक को मास्क से अच्छी प्रकार से ढकें ताकि इससे कोरोना के प्रभाव को कम किया जा सके।
भीड़भाड़ वाले इलाकों में अनावश्यक रूप से न जाने की हिदायत देते हुए उन्होंने कहा कि यदि आवश्यकता न हो तो ऐसी जगहों पर जाने से बचें और सैनिटाइजर का समय-समय पर उपयोग करते रहें।
कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में पुलिस प्रशासन का सहयोग करने का आह्वान करते हुए उन्होंने कहा कि नागरिक प्रशासन द्वारा जारी दिशानिर्देशों का पालन कर समाज में इस महामारी के विरुद्ध अपना अहम योगदान निभा सकते हैं इसलिए वह नियमों का पालन करें और अपने साथ-साथ अपने परिवार को भी सुरक्षित रखें।