संत शिरोमणि गुरु रविदास जी का जन्मउत्सव बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया

0
114

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 27 फरवरी। संत शिरोमणि गुरु रविदास के 644 वे जन्मोत्सव पर ज़िला स्तरीय आयोजन संत रविदास मंदिरखेड़ी नजदीक खेडी पुल पर आयोजित किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचन्द शर्मा ने इस अवसर पर कहा कि संत रविदास भगवान का रूप है। जिसने भी संत शिरोमणि रविदास जी के पद चिन्हों को अपनाया है उनका जीवन सफल हुआ है। उन्होंने कहा कि आज समूचे प्रदेश में संत शिरोमणि गुरु रविदास जी का जन्मउत्सव को बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है और इसी कड़ी में आज इस कार्यक्रम का आयोजन माननीय मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया गया है। उन्होंने कहा कि संत किसी वर्ग विशेष के लिये नही अपितु लोक कल्याण एवं विश्व शांति की कल्पना के साथ अपने भाव एवं भक्ति के साथ संसार में जन्म लेते हैं। जिनके दिखाए मार्ग एवं ज्ञान का अनुसरण करके ही हम उनके जन्म उत्सव को सही अर्थों में बना सकते हैं। मन चंगा तो कठौती में गंगा जैसे अनुभवी वाक्यों के माध्यम से संत शिरोमणि गुरु रविदास जी ने समाज को संदेश देने का प्रयास किया।  इसमें भक्ति एवं सौहार्द के माध्यम से अपनी अध्यात्म के साथ भौतिक जिम्मेदारियों की बखुबी निभाने की उनकी सीख आज के परिपेक्ष में भी सारगर्भित है। इसलिये हम सभी को आज के दिन संतो के दिखाए मार्ग चलने का संकल्प लेना चाहिए। इस मौके पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित किया। कार्यक्रम में उपायुक्त यशपाल यादव, एसडीएम जितेंद्र , स्वामी नरेश आनंद महाराज, डॉ एमपी सिंह, धर्मपाल सरपंच, बाबूलाल, रवि, पुनीत प्रधान ,अशोक कुमार ,बलबीर सिंह, दलीप नंबरदार, भवानी प्रसाद, त्रिखा राम, लोकेश, प्यारेलाल तिरखा राम, भजन लाल, बाल कृष्ण, भगवान, दलीप नंबरदार, दिनेश नरवाना, वार्ड पार्षद, नरेश नंबरदार, बाल किशन, सूरजभान, राम सिंह कृपाराम, महेश माहौर, विनोद भाटी सहित काफी संख्या में गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।