डेबिट कार्ड का क्लोन तैयार कर लोगो के बैंक खातों से पैसे उडाने वाले गिरोह का साइबर थाना पुलिस ने किया पर्दाफाश 

0
209
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : डॉ अर्पित जैन डीसीपी मुख्यालय ने प्रेस वार्ता के दौरान जानकारी देते हुए बताया कि साइबर थाना की पुलिस टीम ने साइबर अपराधियों के खिलाफ बड़ी कार्यवाही करते हुए 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है|
गिरफ्तार किये गए आरोपियों में मुबारिक, आरिफ और मजहर का नाम शामिल है|
पूछताछ में आरोपियो ने बताया कि आरोपी बड़ी बड़ी दुकानों पर कर्मचारी बनकर काम करते थे और अपनी स्कीमर मशीन के जरिये वहां पर आने वाले ग्राहको के डेबिट कार्ड की जानकारी के साथ साथ उनका ATM पिन भी हासिल कर लेते थे| इसके बाद ग्राहक के डेबिट कार्ड की जानकारी अपने किसी पुराने डेबिट में कॉपी करके उसका क्लोन तैयार कर लिया जाता था| इसके बाद किसी भी मनी ट्रांसफर आउटलेट के जरिये ग्राहक के डेबिट कार्ड से पैसे निकाल लिए जाते थे|
आरोपियो ने इसी तरीके से फरीदाबाद सेक्टर-23 निवासी प्रभंजन के.आर.सिंह के डेबिट कार्ड का क्लोन तैयार कर भिवाडी स्थित पवन कॉम्युनिकेशन की मनी ट्रांसफर आउटलेट से 3,40,000 रुपये धोखे से हडपे थे।
प्रभंजन के. आर. सिंह ने इसकी शिकायत फरीदाबाद के साइबर थाना में दी जिस पर भारतीय दंड संहिता की धारा 419,420 के तहत मुकदमा दर्ज करके मामले की जांच शुरू कर दी गई|
पवन कॉम्युनिकेशन भिवाड़ी की तरफ से भी इन आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज है जिसमे आरोपी जेल की सजा काट रहे थे|
पुलिस कमिश्नर श्री ओ.पी.सिंह ने मामले का संज्ञान लेते हुए आरोपियो को जल्द पकडने के निर्देश दिये। जिसके उपरांत श्री मुकेश मल्होत्रा पुलिस उपायुक्त अपराध के दिशा निर्देश पर , निरीक्षक बंसत कुमार साइबर थाना प्रबन्धक के नेतृत्व में उप.नि. राजेश कुमार. उप. नि. योगेश कुमार, स.उप.नि. सत्यबीर, स.उप.नि. नीरज, सिपाही बिजेंद्र,सिपाही अंशुल कुमार, सिपाही सचिन, सिपाही कर्मवीर की टीम गठन कर उपरोक्त आरोपियों को प्रोडक्शन वारंट लेकर गिरफ्तार किया गया|
पूछताछ में आरोपियो ने बताया कि वह अबतक इस प्रकार की करीब 20 वारदातो के तहत 20 लाख से ज्यादा रकम की धोखाधड़ी को अंजाम दे चुके हैं जिसकी सूचना सम्बंधित राज्य की पुलिस को दे दी गई है|
आरोपियो से कुल 1,93,000/- रुपये, 50 डेबिट कार्ड और 2 स्कीमर डिवाइस बरामद किये गए हैं जिसमे से आरोपी आरिफ से 83,000,आरोपी मजहर से 78,000 तथा आरोपी मुबारिक से 32,000 रुपये बरामद हुए है।
आरोपी मुबारिक राजस्थान के अलवर, आरोपी आरिफ बल्लबगढ के आदर्श नगर और आरोपी मजहर मेवात के फिरोजपुर झिरका के रहने वाले हैं।
आरोपियों को आज अदालत में पेश करके जेल भेज दिया जाएगा|