डी.ए.वी शताब्दी महाविद्यालय में पर्यटन विभाग के विद्यार्थियों के लिए किया गया’ विस्तार- व्याख्यान का आयोजन’

0
432
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : डी.ए.वी शताब्दी महाविद्यालय में दिनांक 17 फरवरी को पर्यटन विभाग द्वारा ‘विस्तार- व्याख्यान’ का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम ऑनलाइन प्रणाली के माध्यम से आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में विभाग के 40 विद्यार्थियों के साथ प्राध्यापकों ने भी अपनी उपस्तिथि दर्ज की। यह कार्यक्रम डिग्री के अंतिम वर्ष के छात्र- छात्राओं के लिए आयोजित किया गया। इस व्याख्यान का केंद्र- बिंदु विद्यार्थियों को साक्षात्कार से जुड़े विभिन्न पहलुओं से अवगत करवाना था। मुख्यतौर पर इस कार्यक्रम के जरिए साक्षात्कार से जुड़े सकारात्मक प्रभावों को विद्यार्थियों से परिचित करवाना था। इस व्याख्यान की मुख्य वक्ता मिस. कंवलजीत कौर रही, जो एक नामी कंपनी शाही एक्सपोर्ट्स के मानव संसाधन विभाग में उप- प्रबंधक के तौर पर कार्यरत हैं। शाही एक्सपोर्ट्स परिधान निर्माण क्षेत्र में एक जाना माना नाम है, जो लगभग 65 फैक्टरीज के साथ – साथ भारत के 09 राज्यों में अच्छे स्तर के परिधानों को निर्माण कर रहा है। श्रीमती कंवलजीत कौर इस कंपनी के साथ पिछले 10 वर्षों से जुड़ी हुई हैं। इसके साथ – साथ श्रीमती कौर डी. ए. वी. कॉलेज की पूर्व छात्रा भी रही हैं।
मिस कौर ने अपने व्याख्यान में साक्षात्कार की सफलता और विफलता जैसे पहलुओं को प्रस्तुतिकरण के जरिए विद्यार्थियों को समझाया। उन्होंने यह भी समझाया कि साक्षात्कार के दौरान महसूस होने वाले भय व हिचकिचाहट को कैसे दूर किया जा सकता है।
उन्होंने अपने व्याख्यान मे इस बात पर जोर दिया कि बार बार की गई अभ्यास प्रक्रिया व पूर्ण रूप से की गई तैयारी साक्षात्कार की सफलता सुनिश्चित कर देती है।
इसके अलावा व्यक्तित्व विकास, भौतिक उपस्तिथि, अच्छी ड्रेसिंग, शब्दों का सही प्रयोग जैसे अन्य पहलुओं से भी अवगत करवाया।
कॉलेज की प्राचार्या डॉ. सविता भगत जी ने भी इस दौरान साक्षात्कार से जुड़े कुछ अनुभवों व पहलुओं को सांझा किया। प्राचार्या महोदया ने विद्यार्थियों को आत्मविश्वास वृद्धि पर जोर देने को कहा व उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।
यह सारा कार्यक्रम विभागाध्यक्ष अमित कुमार व डॉ. सुरभि की देख देख व दिशा – निर्देश में हुआ। इस व्याख्यान में विभाग से जुड़े अन्य प्राध्यापक भी मौजूद रहे जिनमें मैडम अंकिता मोहिंद्रा, डॉ. निशा सिंह, मैम ओमिता जौहर, मैम भारती अग्रवाल, मैडम तमन्ना व मैडम मीनाक्षी कौशिक प्रमुख थे।