भारतीय जनता पार्टी फ़रीदाबाद के नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा रोष प्रदर्शन

0
155

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 30 मार्च। आज भारतीय जनता पार्टी फ़रीदाबाद के ज़िला अध्यक्ष गोपाल शर्मा के नेतृत्व में भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा ज़िला मुख्यालय पर पंजाब की अबोहर विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक अरुण नारंग के साथ हुई मार पिट और दुर्व्यवहार के विरोध में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का पुतला जलाकर रोष व्यक्त किया। कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस मुर्दाबाद सोनिया गाँधी मुर्दाबाद और कैप्टन अमरिंदर होश में आओ के नारों के साथ ज़बरदस्त रोष प्रदर्शन किया। दिन पहले कांग्रेस के उपद्रवी कार्यकर्ताओं द्वारा अबोहर के भाजपा विधायक की लात घूसों से पिटाई की और उन कर स्याही फेंक दी। इतना ही नहीं इन उपद्रवीयों ने विधायक के कपड़े तक फाड़ कर दौड़ा दौड़ा कर पिटा। ज़िला अध्यक्ष गोपाल शर्मा ने कहा कि इस दुखद और शर्मनाक घटना के पीछे पंजाब की कांग्रेस सरकार का हाथ है। पंजाब के मुख्‍यमंत्री अमरिंदर सिंह ने इन उपद्रवी लोगों को विधायक पर हमला करने के लिए उकसाया है। पुलिस अधिकारियों के सामने किसी विधायक की पिटाई हुई I पुलिस अपनी  ड्यूटी निभाने में नाकाम रही है। हम कांग्रेस के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के संरक्षण में कांग्रेस के उपद्रवियों द्वारा की इस शर्मनाक घटना की भर्त्सना करते हैं और दोषी पुलिस अधिकारियों को बर्खास्त करने की माँग करते हैं और उपद्रवियों के ख़िलाफ़ कठोर करवाई की माँग करते हैं। विधायिका सीमा त्रिखा ने कहा कि बीजेपी विधायक पर हुए जानलेवा हमले की इस घटना से यह ज़ाहिर हो गया कि राज्य में सरकार भी कानून व्यवस्था बनाये रखने में विफल रही है। लोकतन्त्र में चुने हुये प्रतिनिधि के ख़िलाफ़ इस तरह की घटना की घोर निंदा करती हूँ। पंजाब सरकार ने लोकतंत्र को तार तार करने का शर्मनाक कार्य किया है।
वरिष्ठ उप महापौर देवेन्द्र चौधरी ने कहा कि भाजपा विधायक पर जानलेवा हमला कांग्रेस सरकार और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के इशारे पर किया गया है। हम इसकी घोर निंदा करते हैं और दोषियों के ख़िलाफ़ करवाई की माँग करते हैं।
ज़िला महामंत्री मूलचंद मित्तल ने कहा कि  पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और पंजाब की कांग्रेस सरकार इसके लिए सीधे तौर पर जिम्मेदार है। पंजाब में बीजेपी की आवाज को दबाने के लिए कैप्टन अमरिंदर इस तरह के हमले करवा रहे हैं। पंजाब में क़ानून व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है। उन्होंने भाजपा विधायक के साथ किये गये दुर्व्यवहार को बर्बरतापूर्ण, शर्मनाक और दुखद बताया और कठोर दंड की माँग की। इस अवसर पर ज़िला अध्यक्ष गोपाल शर्मा, विधायिका सीमा त्रिखा, महापौर सुमन बाला, वरिष्ठ उपमहापौर देवेन्द्र चौधरी, चेयरमेन धनेश अधलखा, वरिष्ठ भाजपा नेता  टिपर चंद शर्मा नगेंद्र भड़ाना, ज़िला महामंत्री मूलचंद मित्तल, आर एन सिंह, पार्षद अजय बैसला, सुभाष आहूजा, विनोद भाटी, वरिष्ठ भाजपा नेता राजकुमार वोहरा, वज़ीर सिंह डागर, ज़िला उपाध्यक्ष अनिल नागर, संजीव भाटी, पंकज रामपाल, मान सिंह, बिजेंद्र नेहरा, मुकेश अग्रवाल, रविंद्र त्यागी, राजन मुथरेज़ा आई टी व सोशल मीडिया ज़िला संयोजक अमित मिश्रा, भाजपा मोर्चों के ज़िला अध्यक्ष राजबाला सरधाना, भगवान सिंह, सुखबीर मलेरना, लाजर रणजीत सेन, मोर्चों के पदाधिकारी व भाजपा के ज़िला व मंडल हज़ारों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।