वाहन चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाया जाए : ओपी सिंह

0
61
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : पुलिस कमिश्नर श्री ओ पी सिंह ने आज अपने कार्यालय सेक्टर 21c में सभी क्राइम युनिट के स़ाथ मीटिंग कर पुलिस अधिकारी/कर्मचारियों को अपराध पर अंकुश लगाने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
पुलिस कमिश्नर श्री ओपी सिंह ने सभी पुलिस कर्मियों को  संबोधन कर मीटिंग की शुरुआत कबीर जी के दोहे “”चाह मिटी, चिंता मिटी मनवा बेपरवाह, जिसको कुछ नहीं चाहिए वह शहनशाह”” से की।
उनका मकसद था कि पुलिस को लोभ लालच मोह माया से दूर रहना चाहिए और और जब हम लोग लालच से दूर रहेंगे तो निष्पक्षता से अपना कर्तव्य पालन कर आमजन के हितेषी बनकर और बदमाशों के लिए शहंशाह की तरह रहना चाहिए। इससे अपराध पर अंकुश लगाया जा सकता है और आम लोगों के बीच में पुलिस के प्रति विश्वास बढ़ेगा व बदमाशों के बीच पुलिस का खौफ बना रहना चाहिए ।
इस दौरान उन्होंने सभी पुलिस अधिकारियों को चोरियों पर  भी अंकुश लगाने के निर्देश दिए हैं।
उन्होंने कहा कि वाहन चोरी को रोकने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जाएं ताकि वाहन चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सके।
उन्होंने कहा कि ज्यादातर वाहन चोरी की घटनाएं भीड़भाड़ वाले इलाके में बिना पार्किंग के खड़े वाहनों में होने का ज्यादा खतरा होता है।
एमसीएफ कमिश्नर को मुख्य बाजारों मे PAID पार्किंग स्थल /व्यवस्था बनाने के लिए डीसीपी हेड क्वार्टर डॉक्टर अर्पित जैन को पत्राचार के लिए कहा । ताकी लोग खरीदारी के समय अपने वहान को सुरक्षित जगह पर खड़ा कर सके करने के लिए आते हैं अपने वाहनों को पार्किंग में खड़ा कर सकें और चोरी होने की संभावना ना हो। इसके अलावा मार्केट नागपुर भीड़ वाली जगहों पर पुलिस के प्रेजेंस बढ़ाई जाए।
पुलिस कमिश्नर ने सभी अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि सभी अपने एरिया में नशा, अवैध हथियार और जुए सट्टे  जैसे  अपराध पर अंकुश लगाएं।
सभी थाना प्रभारी, चौकी इंचार्ज, और क्राइम यूनिट अपनी टीमों को टेक्निकल स्ट्रांग करें ताकि अपराधिक घटनाओं को जल्द से जल्द सुलझाकर आरोपियों को जल्द सजा दिलाई जा सके।
उन्होंने कहा कि फरीदाबाद शहर के प्रमुख चौक चौराहों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। जिन से पुलिस को अपराधियों पर  नजर बनाए हुई हैं।
इसके अलावा उन्होंने कहा कि एंटी ट्रैफिकिंग  सेल /मिसिंग सेल महिला व माइनर बच्ची /बच्चों की तलाश करने के हर संभव प्रयास करें।
पुलिस के पास जो पावर है कानून की दी हुई उसको सही दिशा में इस्तेमाल करें, आमजन  की मदद करें, स्थानीय अच्छे लोगों से सरोकार  रखें ।अपराधिक प्रवृत्ति  के  व्यक्तियो और बदमाशों के पीछे लगे रहे और उनको जेल भेजें । अपना आचार, विचार और व्यवहार ठीक रखें।