वैश्विक महामारी का वैक्सीन तैयार करके भारत ने विश्व में अपना परचम लहराया है : कृष्णपाल गुर्जर

0
184
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 20 मार्च। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत ने विश्व में अलग पहचान बनाई है। कोविड-19 की वैश्विक महामारी का वैक्सीन तैयार करके भारत के वैज्ञानिकों ने विश्व में अपना परचम लहराया है। केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने यह बात शनिवार को जिला के विभिन्न कोविड-19 सैंटरो का निरीक्षण करने उपरांत कही। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश में और मुख्यमंत्री मनोहर लाल नेतृत्व के नेतृत्व में प्रदेश में सरकार जनहित की योजनाएं बनाकर उन्हें क्रियान्वित कर रही है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 जैसी वैश्विक महामारी के बचाव का वैक्सीन 60 साल से अधिक आयु उम्र के बुजुर्गों और फ्रट लाइन में कार्य करने वाले कर्मचारियों, अधिकारियों और समाज सेवकों को कोविड-19 के बचाव के लिए नि:शुल्क में लगाया जा रहा है। उन्होंने शनिवार को सामुदायिक चिकित्सा केंद्र खेड़ी कलां, सामुदायिक चिकित्सा केंद्र तिगांव, एफआरयू द्वितीय सेक्टर- 3, नागरिक हस्पताल एवं एम्स द्वारा संचालित व्यापक ग्रामीण स्वास्थ्य सेवा केंद्र बल्लभगढ़, नागरिक अस्पताल/बीके अस्पताल फरीदाबाद तथा ईएसआई मेडिकल कॉलेज फरीदाबाद में जाकर वहां पर संचालित किए जा रहे, वैश्विक महामारी के बचाव के लिए को कोविड-19 सेंटरों और ऑब्जर्वेशन होम का निरीक्षण किया। उन्होंने निरीक्षण के दौरान चिकित्सा अधिकारियों और कर्मचारियों को निर्देश दिए कि वे सरकार द्वारा द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार बुजुर्गों, फ्रंट लाइन पर कार्य करने वाले कर्मचारियों अधिकारियों व समाजसेवी संस्थाओं जनप्रतिनिधियों को वैश्विक महामारी कोविड-19 के बचाव की वैक्सीन लगाएं। उन्होंने कहा कि लोगों में अधिक से अधिक प्रचार करें ताकि लोग बिना भय के निर्बाध रूप से वैक्सीन लगवाने अस्पतालों में आए और अन्य लोगों को भी इसके बारे प्रेरित करें।
केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने  बीके नागरिक हस्पताल, सामुदायिक चिकित्सा केंद्र, गांव श प्रथम रेफरल इकाई  बल्लभगढ़ सेक्टर- 3, नागरिक अस्पताल बल्लभगढ़’ ईएसआई मेडिकल कॉलेज फरीदाबाद में दवा के स्टाक के बारे में चिकित्सकों से अलग-अलग जानकारी ली। चिकित्सकों ने विस्तार पूर्वक बताया कि बल्लभगढ़ नागरिक हॉस्पिटल तथा बीके नागरिक हस्पताल बीके में हर रोज लगभग प्रतिदिन लगभग 200 से 600 तक की ओपीडी कोविड-19 के बचाव के लिए वैक्सीन लगाने की जा रही है। लोगों में वैक्सीन लगवाने के प्रति जागरूकता भी हो रही है। लोग अपने आप चिकित्सा केंद्रों पर आकर वैक्सीन लगवा रहे हैं। उन्होंने सभी चिकित्सा केंद्रों पर कोविड-19 बचाव के लिए लगाए जाने वाले वैक्सीन के उपरांत इंजेक्शन लगवाने वाले लोगों के साथ ऑब्जर्वेशन होम में जाकर बातचीत की। उन्होंने कहा कि घबराने की कोई बात नहीं है। शरीर में यदि कोई थकान या हल्के बुखार होने पर एक टेबलेट ले ले। 24 घंटे के बाद इस इंजेक्शन से शरीर में कोई कमी नहीं आती। इंजेक्शन का कोई भी साइड इफेक्ट नहीं है। उन्होंने बताया कि उन्होंने  स्वयं भी यह वैक्सीन लगवाया था और पेरासिटामोल की एक टेबलेट भी ली थी ताकि शरीर में थकान या इंजेक्शन के प्रभाव से शरीर में और कोई कमजोरी ना आए। उन्होंने ऑब्जर्वेशन होम में लोगों को कहा कि 28 दिनों के बाद दूसरा टीका लगवाया जाना है इसके लिए उनके मोबाइल नंबर पर एसएमएस के जरिए मैसेज आएगा।
इस दौरान उनके साथ जिला परिषद के पूर्व चेयरमैन विनोद चौधरी, जिला चिकित्सा अधिकारी डाक्टर रणदीप पुनिया, डॉक्टर हरजिंदर सिंह, एसएमओ डॉ अनूप, विनोद नरवत, राकेश नरवत, रतन सिंह, डॉ अपूर्वा, डॉक्टर शिव प्रसाद दुबे, डॉक्टर तरुण शर्मा, डॉक्टर मोनिका, डॉक्टर रचना यादव डॉक्टर वाईपी सिंह, पप्पू सरपंच तिगांव रिंकू सरपंच सहित चिकित्सा अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।