जे.सी. बोस विश्वविद्यालय छात्राओं को देगा आत्मरक्षा का प्रशिक्षण

0
143

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : 3 मार्च। छात्राओं को आत्मरक्षा प्रशिक्षण प्रदान करने के उद्देश्य से जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद आज हरियाणा किक बॉक्सिंग एसोसिएशन (एचकेए) के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए। एसोसिएशन सत्र 2021-22 से छात्राओं के लिए आत्मरक्षा प्रशिक्षण कार्यक्रम का संचालन करेगा।
विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. सुनील कुमार गर्ग और एसोसिएशन के महासचिव संतोष कुमार अग्रवाल ने कुलपति प्रोफेसर दिनेश कुमार की उपस्थिति में समझौते पर हस्ताक्षर किए। इस अवसर पर डीन स्टूडेंट वेलफेयर प्रो. लखविंदर सिंह, डिप्टी डीन स्टूडेंट वेलफेयर डॉ. अनुराधा पिल्लई, और निदेशक इंडस्ट्री रिलेशंस डॉ. रश्मि पोपली भी मौजूद थीं।
कुलपति प्रो दिनेश कुमार ने छात्राओं के लिए आत्मरक्षा कौशल को आवश्यक बताते हुए कहा कि आत्मरक्षा प्रशिक्षण का मुख्य उद्देश्य छात्राओं का शारीरिक और मानसिक रूप से आत्म निर्भर बनाना है ताकि वे किसी भी स्थिति का सामना कर सकें। यह छात्रों को उनके आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को बढ़ाने में मदद करेगा। इसके अलावा, किकबॉक्सिंग एक मान्यता प्राप्त खेल है और छात्र इसमें अपना करियर भी बना सकते हैं।
एचकेए के महासचिव संतोष कुमार ने कहा कि इस साझेदारी का उद्देश्य छात्राओं के बीच किक बॉक्सिंग को बढ़ावा देना है। एसोसिएशन छात्राओं के लिए 40 घंटे का व्यावहारिक प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करेगा। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में छात्राओं के प्रदर्शन का मूल्यांकन परीक्षा के आधार पर भी किया जाएगा। आत्मरक्षा प्रशिक्षण कार्यक्रम के अलावा एसोसिएशन की विश्वविद्यालय में राज्य और राष्ट्रीय स्तर के टूर्नामेंट या शिविर आयोजित करने की योजना है ताकि इस खेल में छात्रों की भागीदारी सुनिश्चित की जा सके।
कुलसचिव डॉ. सुनील कुमार गर्ग ने एसोसिएशन को आश्वस्त किया है कि खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए विश्वविद्यालय द्वारा एसोसिएशन की हर संभव सहयोग प्रदान किया जायेगा।