RBL बैंक कर्मी बनकर क्रेडिट कार्ड पर कैशबैक के लालच मे फसां कर लोगों के साथ करते थे धोखाधड़ी

0
240
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : डॉ अर्पित जैन डीसीपी मुख्यालय ने प्रेस वार्ता के दौरान खुलासा करते हुए बताया कि साइबर थाना की टीम ने, RBL बैंक का कर्मचारी बताकर लोगों के साथ आरबीएल बैंक के कार्ड पर कैशबैक का  ऑफर दे (साइबर फ्रॉड) धोखाधड़ी से पैसा ऐंठने वाले दिल्ली निवासी 2 ऐशे आरोपियो को गिरफ्तार किया है जो कम समय में अवैध तरीके (साइबर फ्रॉड) से ज्यादा पैसा कमाना चाहते थे।
गिरफ्तार किए गए आरोपियों में ध्रुव और हिमांशु शामिल है।
फरीदाबाद साइबर थाना में इन लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 406,419,420 के तहत धोखाधड़ी के 3 मुकदमे दर्ज हैं।
पुलिस आयुक्त श्री ओपी सिंह द्वारा आरोपियो को जल्द पकडने के निर्देशों व पुलिस उपायुक्त अपराध-श्री मुकेश मल्होत्रा व सहायक पुलिस आयुक्त अपराध-श्री अनिल यादव के दिशा-निर्देशों पर कार्य करते हुए थाना साइबर अपराध प्रभारी इंस्पेक्टर बसंत कुमार के नेतृत्व में टीम का घठन किया गया जिसमे सहायक उप निरीक्षक नरेंद्र, उप निरीक्षक राजेश कुमार, उप निरीक्षक योगेश कुमार, महिला स.उ.नि. गीता, मु.सि. दिनेश, मु.सि. नरेश, मु.सि. लोकेश,  मु.सि.वीरपाल, मु.सि. कृष्ण, सिपाही अंशुल कुमार, सिपाही अमित, सिपाही सचिन, सिपाही सुमित का नाम शामिल है।
दिनांक 14 फरवरी 2021 को साइबर तकनीक की सहायता से आरोपियों को फरीदाबाद से गिरफ्तार करके 10 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया।
पुलिस रिमांड के दौरान पूछताछ में सामने आया कि आरोपी खुद को RBL बैंक का कर्मचारी बताकर लोगों को फ़ोन करके उनके RBL क्रेडिट कार्ड पर कैशबैक ऑफर का लालच देते थे। इन फर्जी बैंककर्मियों की बातों में आकर कुछ लोग कैशबैक के लालच में फस जाते थे।
पैसों के लालच में आकर जब कार्डधारक कैशबैक ऑफर लेने की हामी भर लेते थे तो आरोपी क्रेडिट कार्ड की वेरिफिकेशन के नाम पर उनसे क्रेडिट कार्ड का नंबर, CVV और OTP प्राप्त कर लेते थे।
इसके पश्चात् वह उस क्रेडिट कार्ड से ईकॉमर्स वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन शौपिंग करते और महंगे सामान मंगवा लेते।
जब वह सामान डिलीवरी के लिये आता तो उसे अपने पते पर न लेकर कहीं बीच रास्ते में ही ले लेते थे और बाद में उस सामान को सस्ते रेट पर राह चलते लोगों को बेच दिया जाता था।
पूछताछ में सामने आया कि आरोपी दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में अब तक 50 से ज्यादा लोगों सहित पूरे देश में 1 हजार से ज्यादा लोगों के साथ धोखाधड़ी कर चुके हैं।
इस प्रकार धोखाधड़ी करके इन्होने कई लोगों को लाखों का चूना लगाया है। सेक्टर 28 के रहने वाले राजबहादुर के साथ 1 लाख 27 हजार, सेक्टर 15ए के निवासी अमितराज बग्गा के साथ 92 हजार और बल्लबगढ की हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी निवासी संजय कुमार के साथ 52 हजार रुपए का फ्रॉड कर चुके हैं।
आरोपियों के कब्जे से 2 मोबाइल फ़ोन व 30 हजार रुपए व 1 सिमकार्ड बरामद किए गए हैं।
आरोपी ध्रुव पुत्र अशोक कुमार दिल्ली के मोहन गार्डन व आरोपी हिमांशु पुत्र सुनिल कुमार दिल्ली के उत्तमनगर का रहने वाला है जिन्हें अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।
इस मामले में इनका एक अन्य साथी भी शामिल है जिसको पुलिस द्वारा जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।