खेलों से मनुष्य का शारीरिक विकास व भाईचारे की भावना को मिलता है बल : यशपाल रावत

0
128

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : हरियाणा भंडारण निगम के चेयरमैन एवं पृथला के विधायक नयनपाल रावत के बड़े भाई यशपाल रावत ने कहा है कि प्रदेश की मनोहर सरकार की बेहतर खेल नीति का ही परिणाम है कि आज ग्रामीण क्षेत्रों में युवाओं को बेहतर मंच उपलब्ध हो रहे है और उन्हें आगे बढऩे का मौका मिल रहा है। आज ग्रामीण क्षेत्रों से निकल रहे खिलाड़ी देश व विदेशों में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाकर अपने जिले व प्रदेश का नाम रोशन कर रहे है। श्री रावत आज गांव छांयसा में आयोजित जिलास्तरीय जूनियर कुश्ती प्रतियोगिता में बतौर मुख्यातिथि उपस्थितजनों को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान प्रतियोगिता के आयोजकों ने श्री रावत का पहुंचने पर फूल मालाओं एवं स्मृति चिन्ह भेंट कर स्वागत किया। श्री रावत ने खिलाडिय़ों से परिचय लेते हुए उनकी हौंसला अफजाई करते हुए कहा कि खेलों को खेल की भावना से खेलना चाहिए, हार जीत के मायनों से अलग हटकर आपसी एकता का परिचय देना चाहिए। उन्होंने कहा कि खेलों से जहां शारीरिक व मानसिक विकास होता है व आपसी भाईचारा भी बढ़ता है। प्रतियोगिता में 57 किलो भार वर्ग में प्रथम स्थान साहिल, जबकि दूसरा भारत ने हासिल किया वहीं 70 किलो में मनीष प्रथम, 74 किलो में गौरव प्रथम, 79 किलो में यश प्रथम, हर्ष द्वितीय, 86 किलो में निखिल प्रथम, शिवांशु द्वितीय, 97 किलो में विवेक प्रथम, 125 किलो में मोहित प्रथम स्थान पर रहे, जबकि महिला वर्ग में 57 किलो में आकांक्षा, 62 कलो में महक व 65 किलो में कुमकुम ने प्रथम स्थान हासिल किया। विजेता खिलाडिय़ों को यशपाल रावत ने पुरस्कार देकर सम्मानित किया और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। इस अवसर पर अशोक तंवर, हुकम दीक्षित, डीग्बर चौधरी, मनोज चंदावली, अश्विनी शर्मा, अक्षय राठी, अमित राठी,  पवन सैनी, शोभाराम, जयचंद, शेरा पहलवान, ब्रजेश सोलंकी, बाबा सिंधू व महासचिव रोहतास भाटी (युवा सोच ग्रुप ) संकेत भाटी छांयसा (संस्थापक रूरल युनिक एन जी ओ) पवन भाटी छांयसा दीपक गौर, ओमप्रकाश भाटी, अशोक तवर व अन्य गणमान्य मौजूद रहे।