युवक के परिजन पहुंचे पुलिस आयुक्त कार्यालय, गुलदस्ता देकर ओपी सिंह का किया आभार व्यक्त

0
244
Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : जिला पुलिस की कार्यकुशलता ने कई जिंदगियां बर्बाद होने से बचाने में अहम भूमिका निभाई है। सतर्कता, तकनीकी और कड़ी मेहनत से कार्य करते हुए पुलिस ने मानसिक तनाव में चल रहे 27 वर्षीय युवक को गोवा से बरामद करके उनके परिवार की खुशियां उन्हें वापस लौटाई हैं।
दिनांक 25 फरवरी 2021 को युवक के परिजनों ने पुलिस चौकी सेक्टर 11 में दी अपनी शिकायत में बताया कि उनका 27 वर्षीय लड़का कुनाल अपनी गाड़ी लेकर मार्केट गया था और वापस नहीं आया है।
उन्होंने बताया कि कुनाल शादीशुदा है और स्क्रैप का कारोबार करता है। कारोबार में घाटे के चलते कुनाल मानसिक तौर पर बीमार चल रहा है।
उन्होंने बताया कि उन्हें डर है कि कहीं वह कोई गलत कदम नहीं उठा ले इसलिए जल्द से जल्द उसकी तलाश करने में उनकी मदद की जाए।
युवक के परिजनों की शिकायत पर थाना सेक्टर 7 में मुकदमा दर्ज करके युवक की तलाश करने के लिए टीम का गठन किया गया जिसमें चौकी प्रभारी उप निरीक्षक प्रदीप, प्रधान सिपाही मानसिंह और प्रधान सिपाही जेल सिंह शामिल थे।
पुलिस आयुक्त श्री ओ पी सिंह व सहायक पुलिस आयुक्त श्री अशोक कुमार के दिशा निर्देशों पर कार्य करते हुए पुलिस टीम ने युवक की तलाश शुरू कर दी।
पुलिस ने युवक के दोस्तों, रिश्तेदारों और आसपास क्षेत्र के लोगों से युवक के बारे में पूछताछ की परंतु उसकी कोई जानकारी पुलिस को नहीं लग पाई।
इसके पश्चात मामले में तकनीकी सहायता के लिए फरीदाबाद साइबर विभाग से सहायक उप निरीक्षक जावेद और प्रधान सिपाही वसीम को टीम में शामिल किया गया जिन्होंने साइबर तकनीक का प्रयोग करते हुए पाया कि युवक अपनी गाड़ी छोड़कर ओला टैक्सी के माध्यम से महिपालपुर एयरपोर्ट गया था।
ओला कंपनी से जब जानकारी प्राप्त की गई तो टैक्सी ड्राइवर ने बताया कि उसने कुनाल को महिपालपुर के पास छोड़ा था।
पुलिस के अनुमान के अनुसार कुनाल फ्लाइट लेकर कहीं जाने की तैयारी में था।
इसी बीच कुनाल ने अपनी ईमेल आईडी से अपने परिजनों के पास एक मेल भेजा जिसमें उसने कहा कि वह अपने परिवार से बहुत प्यार करता है और उनके लिए धन एकत्रित करने गया है।
दिन रात कड़ी मशक्कत करके फाइबर तकनीक के माध्यम से पुलिस को सूचना मिली कि युवक इस समय गोवा में है।
सूचना मिलते ही युवक को बरामद करने के लिए सेक्टर 30 में स्थित मिसिंग सेल से सहायक उप निरीक्षक कृष्ण कुमार टीम लेकर गोवा के लिए रवाना हो गए।
पुलिस टीम ने गोवा जाकर बताए गए स्थान पर युवक की तलाश की और उसे सकुशल बरामद करके फरीदाबाद लाया गया।
कानूनी कार्रवाई पूरी करने के पश्चात युवक को सकुशल उसके परिजनों के हवाले कर दिया गया।
युवक को वापस पाकर उसके परिजन बहुत खुश हुए। युवक के परिजन पुलिस आयुक्त कार्यालय पहुंचे और पुलिस आयुक्त श्री ओपी सिंह को गुलदस्ता देकर उनका आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पुलिस टीम ने दिन रात कड़ी मेहनत से कार्य करते हुए उनके बेटे की तलाश की है जिसके लिए वह फरीदाबाद पुलिस के जिंदगी भर आभारी रहेंगे।