जीवन के विभिन्न पहलुओं से रूबरू कराती है वैब सीरिज़- अनलॉकिंग माइंड्स : डायरेक्टर आलोक नाथ दीक्षित

0
158

New Delhi Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : हाल ही में दिल्ली यूनिवर्सिटी के जाने-माने हंस राज कॉलेज में तीन दिवसीय “काशी इंडियन इंटरनेशनल फ़िल्म फ़ेस्टिवल अवॉर्ड्स – कीफ़ा – 2021” का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विभिन्न श्रेणियों में बनाई गई फ़िल्म्स को दर्शकों के समक्ष प्रस्तुत कर उन्हें अवॉर्ड्स से सम्मानित किया गया। इस मौक़े पर मुम्बई फ़िल्म इंडस्ट्री के प्रसिद्ध डायरेक्टर – श्री आलोक नाथ दीक्षित से हमारी एक ख़ास मुलाक़ात हुई।

श्री आलोक नाथ दीक्षित द्वारा निर्देशित “अनलॉकिंग माइंड्स” नामक एक इंफ़ॉर्मेटिव वैब सीरीज़ को भी मौजूद दर्शकों के समक्ष दर्शाया गया। इस सीरीज़ पर रौशनी डालते हुए श्री आलोक नाथ बताते हैं कि टैली वेव्स के बैनर तले बनी यह सीरीज़ अपने नाम के हिसाब से ख़ुद ही सार्थक-सी नज़र आती है। वे बताते हैं कि इसमें वे आम ज़िंदगी के कुछ महत्वपूर्ण अंगों – संस्कार, व्यापार, वर्क एथिक्स, प्रॉपर्टी, विल, टैक्सेशन, बैंकिंग, इंश्योरेंस, साइबर लॉज़, इत्यादि, जैसे विषयों पर एक्सपर्ट्स की राय लेते हुए आम लोगों को इन सब पहलुओं पर जानने योग्य ज़रूरी जानकारियां देते हैं। यह सीरीज़ दर्शकों में काफ़ी पसंद भी की जा रही है। इस सीरीज़ को श्री अनिल के. गोयल द्वारा प्रस्तुत किया जाता है। साथ ही विभिन्न विषयों के एक्सपर्ट्स द्वारा बातचीत की जाती है। दर्शक यूट्यूब पर इस सीरीज़ को सर्च करके देख सकते हैं।

दिल्ली के सुप्रसिद्ध हंस राज कॉलेज द्वारा आयोजित इस फ़ेस्टिवल के बारे में श्री आलोक नाथ दीक्षित बताते हैं कि यह महोत्सव अपने आप में बहुत महत्वपूर्ण और सराहनीय कार्य है। अमूमन फ़िल्म फ़ेस्टिवल्स में सिर्फ़ फ़िल्मों और टी.वी. सीरियल्स को ही शामिल किया जाता रहा है। यह पहला ऐसा अवसर है कि जहां पर शॉर्ट फ़िल्म्स और वैब सीरिज़ को भी अवॉर्ड्स की कैटेगरी में शामिल किया गया है। इस प्रकार आने वाले समय में ज़ोर पकड़ते वैब सीरिज़ के चलन को काफ़ी प्रोत्साहन मिलेगा। साथ ही कॉलेज के स्टूडेंट्स को भी महोत्सव में भाग लेने वाले मुम्बई फ़िल्म इंडस्ट्री के जाने-माने डायरेक्टर्स, प्रोड्यूसर्स और फ़िल्म एक्टर्स से रूबरू होने का मौक़ा मिलेगा।

क़रीब तीन दशक से ज़्यादा का समय विभिन्न फ़िल्मों और टी.वी. सीरियल्स के निर्देशन में लगा चुके निर्देशक, श्री आलोक नाथ दीक्षित द्वारा निर्देशित फ़िल्म – साँचा और अपनापन के साथ-साथ भाग्यविधाता, पहचान, धरती की गोद में, अर्धांगिनी, एक किरण रौशनी की, इत्यादि, जैसे कुछ मुख्य सीरियल्स हैं। साथ ही अभी हाल ही में भारत सरकार के इलैक्ट्रॉनिक्स एवं इंफ़ॉर्मेशन टैक्नोलॉजी मंत्रालय के लिए डिजिटल इंडिया योजना के लिए बनाए गए उनके ऐड को काफ़ी सराहा जा रहा है।