डी.ए.वी शताब्दी काॅलेज में ई-गोश्ठी का आयोजन

0
273

Faridabad Hindustan ab tak/Dinesh Bhardwaj : डी.ए.वी शताब्दी काॅलेज, फरीदाबाद ने पंचनद अध्ययन केन्द्र, फरीदाबाद के संयुक्त तत्वाधान में एक ई-गोश्ठी का आयोजन किया। ई-गोश्ठी का विशय ‘‘कोविड से प्रभावित भारतीय अर्थव्यवस्था का पुनः निर्माण एक चुनौती‘‘ था। इस गोश्ठी में राश्ट्रीय वित्तय प्रबंधन संस्थान भारत सरकार, फरीदाबाद के प्रो. ऐ.के. शरण मुख्य वक्ता थे। इस गोश्ठी का अध्यक्षता डी.ए.वी. शताब्दी काॅलेज की कार्यकारी प्राचार्या डाॅ.सविता भगत ने किया। इस गोश्ठी में प्रो. शरण ने अत्यन्त सरल शब्दों में भारतीय अर्थव्यवस्था के समक्ष कोविड महामारी के द्वारा उत्पन्न चुनौतियों का वर्णन करते हुए सम्भावित अवसरों पर भी प्रभाव डाला। उन्होंने भारतीय अर्थव्यवस्था में चार प्रमुख सतंभ-भुगतान सतुलन, लोक-वित्त, वित्तिय बाजार, स्थिर सपत्ति पर रोशनी डाली। साथ ही उन्होंने विनिमय दर, ब्याज दर और मुद्वा स्फिति को मुख्य रुप से आर्थिक क्रियाओं को प्रभावित करने वाले तत्व बताया। प्रो. भगत ने प्रो. शरण की व्कतव्य की समीक्षा करते हुए भारतीय अर्थव्यवस्था में सुधार की अपेक्षा की। उन्होंने भारतीय अर्थव्यवस्था के पूजीवादी अथवा समाजवादी अर्थव्यवस्था होने के विकल्प में समाजवादी को उचित ठहराया। इस ई-गोश्ठी के सचांलक पचंनद अध्ययन केन्द्र के प्रमुख प्रो. आषुतोश निगम ने की। इस ई-गोश्ठी के डाॅ. सुभाश गोयल सहित लगभग 50 बुद्विजीवियों ने भाग लिया।